Breaking International

मुस्लिम लड़की के लिए सुषमा स्वराज से मदद की गुहार, बोली- इस्लाम छोड़ दिया, घरवालों को पता चला तो मार डालेंगे

Muslim girl

सऊदी अरब की रहने वाली 18 वर्षीय लड़की रहाफ मोहम्मद एम अल्कुनून को थाईलैंड में प्रवेश करने से रोक दिया गया है। अल्कुनून ने बैंकाक एयरपोर्ट पर कहा कि अगर थाईलैंड के अधिकारी उसे वापस भेज देते हैं तो उसकी हत्या कर दी जाएगी। रहाफ मोहम्मद एम अल्कुनून ने कहा कि वह अपने परिवार से भाग रही थी क्योंकि उसे शारीरिक और मानसिक तौर पर प्रताड़ित किया जा रहा था।

 

भारतीय यूजर्स ने की विदेश मंत्री से मदद की अपील

रहाफ ने बताया कि जब वह बैंकाक के स्वर्ण भूमि हवाई अड्डे पर पहुंची तब उसे सऊदी और कुवैती अधिकारियों ने रोक लिया और उन्होंने उसके यात्रा कागजात जबरन ले लिए। रहाफ के दावे का ह्यूमन राइट्स वाच ने समर्थन किया है। रहाफ ने कहा कि उन्होंने मेरा पासपोर्ट ले लिया। उसने कहा कि उसके पुरुष अभिभावक ने बिना उसकी अनुमति के यात्रा करने की रिपोर्ट की थी। बता दें कि सऊदी अरब में अभिभावक की बिना अनुमति के यात्रा करना कानूनन अपराध है।

 

Also Read: सवर्णों को आरक्षण देने पर तिलमिलाए असदुद्दीन ओवैसी बोले, संविधान इसकी इजाजत नहीं देता

 

18 वर्षीय रहाफ ने बताया है कि मेरा परिवार सख्त है और उसने मेरे बाल काटने को लेकर छह महीने के लिए एक कमरे में बंद कर दिया था। रहाफ ने कहा कि अगर मुझे वापस भेजा गया तो पक्का ही मुझे कैद कर लिया जाएगा, मैं सौ फीसद पक्का हूं कि सऊदी जेल से निकलते ही वे मुझे मार डालेंगे।

 

Also Read: मोदी सरकार ने आर्थिक रूप से कमजोर सवर्णों को 10 फ़ीसदी आरक्षण को दी मंजूरी, जानें किसे मिलेगा लाभ

 

अल्कुनून की कहानी दुनियाभर की मीडिया में आने के बाद सोशल मीडिया यूजर्स ने उसकी मदद की अपील की है। कुछ भारतीय यूजर्स ने भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से भी लड़की मदद करने की अपील की है। वहीं, रहाफ ने कहा कि वह डरी हुई है और उसकी उम्मीद खत्म हो गई है।

 

16 साल की उम्र में त्याग दिया था इस्लाम धर्म

अल्कुनून ने मीडिया को बताया है कि जब मैं 16 साल की थी तब मैंने इस्लाम धर्म त्याग दिया, अगर मेरे परिवार को इसके बारे मे पता चल गया वो मेरी हत्या कर देंगे। उधर थाईलैंड के मुख्य आव्रजन अधिकारी सुरचाटे हाकपार्न ने कहा कि रहाफ जब रविवार को कुवैत से यहां पहुंची तो उसे रोक लिया गया।

 

Also Read: Video: भाजपा नेता नरेश अग्रवाल के बेटे ने मंदिर में सम्मलेन के दौरान लंच पैकेट में बंटवाई शराब

 

अधिकारी ने कहा कि रहाफ के पास वापसी टिकट जैसे डॉक्यूमेंट या पैसे नहीं थे, वह हवाई अड्डे पर एक होटल में है। उन्होंने कहा कि रहाफ शादी से बचने के लिए अपने परिवार से भाग गई, उसे सऊदी अरब लौटने पर मुश्किलों में फंस जाने का डर है, हमने उसकी देखभाल के लिए अधिकारी भेजे हैं।

 

Also Read: UP: मनमानी वसूली पर नकेल, डोनेशन लिया तो खत्म हो जाएगी संस्था की मान्यता

 

उन्होंने बताया कि थाईलैंड प्रशासन ने इस मामले में सऊदी अरब के दूतावास से संपर्क किया है। लेकिन रहाफ ने उनका खंडन करते हुए कहा कि वो ऑस्ट्रेलिया में शरण लेने के लिए जा रही थी लेकिन उसे स्वर्ण भूमि एयरपोर्ट पर रोक लिया गया।

 

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

36 total views, 1 views today

Related news

आखिरकर चीन को आई समझ, PoK को माना भारत का हिस्सा

BT Bureau

इस्लाम समाज के नेताओ ने ऑनलाइन गेम ‘PUBG’ के खिलाफ निकाला फतवा

Satya Prakash

चांसलर एंजेला मर्केल ने कहा, ‘जर्मनी जल्द बन जाएगा इस्लामिक राष्ट्र’

BT Bureau

Leave a Comment