Breaking Tube
Business

तेजस एक्सप्रेस को भारी पड़ी 3 घंटे की देरी, यात्रियों को रेलवे देने जा रहा 1.62 लाख रुपये का हर्जाना

Delhi-Lucknow Tejas Express got delayed by 3 hours Indian Railway is pay a compensation of 1.62 lakh rupees to the passengers

भारतीय रेलवे (Indian Railway) के इतिहास में पहली बार ऐसा होगा कि किसी ट्रेन की देरी होने पर यात्रियों को जुर्माना दिया जायेगा. इस जुर्माने की रकम 1.62 लाख रुपये है और ये हर्जाना दिल्ली-लखनऊ तेजस एक्सप्रेस (Tejas Express) ट्रेन की 3 घंटे से अधिक की देरी लिए दिया जायेगा. बता दें बीते 10 अक्टूबर को दिल्ली-लखनऊ (Delhi-Lucknow) तेजस एक्सप्रेस 3 घंटे से अधिक विलंब से अपने गंतव्य पर पहुंची थी, जिसके कारण इसका परिचालन करने वाली रेलवे की सहायक कंपनी IRCTC को 950 यात्रियों को लगभग 1.62 लाख रुपये का हर्जाना देना पड़ रहा है. कंपनी हर्जाने की रकम अपनी इंश्योरेंस कंपनी के जरिये भुगतान करेगी. अधिकारियों ने सोमवार को यह जानकारी दी.


Also Read: अब ट्रेन के लेट होने पर यात्रियों का होगा फायदा, 1 घंटे की देरी पर मिलेंगे 100 रूपये, IRCTC ने की घोषणा


दरअसल, दिल्ली-लखनऊ तेजस एक्सप्रेस लखनऊ स्टेशन से अपने निर्धारित समय सुबह 06:10 बजे की जगह पूर्वाह्न 09:55 बजे रवाना हुई थी और अपराह्न 12:25 बजे की जगह शाम 03:40 बजे नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पहुंची थी. यह नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से निर्धारित शाम 03:35 बजे की जगह शाम 05:30 बजे रवाना हुई थी और निर्धारित समय रात 10:05 बजे की जगह 11:30 बजे रात को लखनऊ स्टेशन पहुंची थी.


Also Read: HDFC बैंक ने पासबुक पर लिखा- एक लाख रुपये से ज्यादा रकम की जिम्मेदारी नहीं, वायरल हो रही तस्वीर


इस दौरान लखनऊ से दिल्ली जाने वाले 450 यात्रियों को प्रति यात्री 250 रुपये का हर्जाना मिलेगा, जबकि दिल्ली से लखनऊ की यात्रा करने वाले लगभग 500 यात्रियों को प्रति यात्री 100 रुपये का हर्जाना मिलेगा. रेलवे के एक अधिकारी ने कहा कि ‘यात्री हर्जाने की रकम इंश्योरर द्वारा उपलब्ध कराए गए एक लिंक के जरिये पा सकते हैं जो तेजस एक्सप्रेस के हर टिकट के साथ उपलब्ध कराया गया है. 19 अक्टूबर को ट्रेन को जो विलंब हुआ था वह कानपुर में एक ट्रेन के पटरी पर उतर जाने के कारण हुआ था’.


Also Read: अब ट्रेन में मिलेगा हर बड़ी से बड़ी बीमारी का इलाज, प्लास्टिक सर्जरी से लेकर ऑपरेशन तक की निःशुल्क सुविधा


वहीं, आईआरसीटीसी की पॉलिसी के अनुसार ‘अगर इस ट्रेन को एक घंटे से अधिक का विलंब होता है तो यात्री को 100 रुपये का हर्जाना मिलेगा. जबकि दो घंटे से अधिक की देरी होती है तो हर्जाने की रकम 250 रुपये होगी. अगर यात्रा के दौरान आपके सामान की चोरी या डकैती हो जाती है तो ट्रैवल इंश्योरेंस में एक लाख रुपये का कवर भी मिलता है’.


Also Read: बहुत जल्द Apple iPhone में ‘i’ का मतलब होगा इंडिया!


गौरतलब है कि बीते 6 अक्टूबर से यह ट्रेन सप्ताह में 6 दिन चल रही है, इसलिए इसका शेड्यूल बेहद टाइट है. 20 अक्टूबर को लखनऊ-दिल्ली तेजस एक्सप्रेस 24 मिनट विलंब से पहुंची थी, जबकि दिल्ली-लखनऊ तेजस एक्सप्रेस निर्धारित समय पर पहुंची थी.


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

BSNL देगा JIO को कड़ी टक्कर, 399 वाले रिचार्ज में मिलेगा 3 गुना ज्यादा डेटा

BT Bureau

अब PF पर मिलेगा 8.65 प्रतिशत का ब्याज, वित्त मंत्रालय ने दी मंजूरी

BT Bureau

TikTok से बैन हटने के बावजूद भी नहीं मिल रहा यूजर्स को App

Satya Prakash