Breaking Tube
Business

अगर आपके पास भी है LPG कनेक्शन तो एजेंसी देगी पैसे, जानें नियम और उठाएं लाभ

बिज़नेस: दैनिक जीवन में हम खाना पकाने के लिए रसोई में गैस मतलब एलपीजी सिलेंडर का इस्तेमाल करते है. मोदी सरकार ने भी घर-घर तक गैस कनेक्शन पहुंचाने के लिए उज्ज्वला योजना चलाई जिससे 10 करोड़ परिवारों तक एलपीजी सिलेंडर मुहैया करवाने का लक्ष्य रखा है जिसमें बीपीएल को मुफ्त गैस कनेक्शन दिया जा रहा है. इसके अलावा LPG कनेक्शन पर सरकार कई तरह की सुविधाएं दे रही है. लेकिन कुछ नियम ऐसे हैं जिनकी जानकारी के आभाव में आम लोग इसका लाभ नहीं उठा पाते हैं.


गैस भरवाना हो या रेग्युलेटर खराब हो जाए या रेगुलेटर चोरी हो जाए तो परेशानी का सामना करना पड़ता है. लेकिन सरकार ने इसके लिए भी सुविधा देने का प्रावधान किया है. इसके तहत आपका रेगुलेटर चोरी होने पर आप एजेंसी से नए रेगुलेटर की मांग कर सकते हैं. लेकिन इसके लिए इसके लिए आपको पुलिस में एक एफआईआर दर्ज करानी होगी और एफआईआर की कॉपी जमा करने के बाद एजेंसी आपको रेगुलेटर दे देगी.



जब आप गैस रिफिल कराने के लिए पैसे का भुगतान करते हैं तो उसमें घर तक पहुंचाने का चार्ज भी निहित रहता है. ऐसे में गैस एजेंसी आपको घर तक गैस सिलेंडर पहुंचाती है. लेकिन अगर आप खुद गोदाम में जाकर गैस लाते हैं तो एजेंसी को आपको आने जाने का खर्च देना होगा. आप अपनी एजेंसी से 19.50 रूपये की मांग कर सकते हैं. अगर गैस एजेंसी आपको ये पैसे देने से मना कर देती है, तो टोल फ्री नंबर 18002333555 पर आप एजेंसी की शिकायत दर्ज करवा सकते हैं.


Also Read: LIC ने निकाली शानदार पॉलिसी, मात्र 206 रुपये के निवेश पर मिलेंगें 27 लाख रुपये


सिलेंडर में कितनी गैस बची है, ये आप गैस के रेगुलेटर से भी पता लगा सकते हैं. सुविधा को ध्यान में रखते हुए अब मल्टीफंक्शन रेगुलेटर भी आ चुके हैं, जिसकी मदद से आप ये पता लगा सकते हैं कि आपके सिलेंडर में कितनी गैस बची हैं.


Also Read : आलू और टमाटर के बाद अब दूध पीने के लिए भी तरस रहा है पाकिस्तान


देश और दुनिया की खबरों के लिए हमेंफेसबुकपर ज्वॉइन करेंआप हमेंट्विटरपर भी फॉलो कर सकते हैं. )


Related news

अब न कैश की जरूरत न कार्ड की, अंगूठा लगाओ पेट्रोल भरवाओ

Satya Prakash

नए चिप वाले ATM कार्ड से भूलकर भी न करें ये काम वरना कार्ड हो सकता है डैमेज

Satya Prakash

स्पाइसजेट ने पोंछे जेट एयरवेज के कर्मचारियों के आंसू, 100 पायलटों समेत 500 कर्मचारियों दी नौकरी

S N Tiwari