Breaking Tube
Business Government

अब बदल जायेगा आपके RC और ड्राइविंग लाइसेंस का डिजाइन, नये फार्मेट के साथ पूरे देश में 1 अक्टूबर से होगा लागू

your Driving Licence and Registration Certificate format will change from 1st october

अगर आप वाहन चालक है या ज्यादातर अलग-अलग शहरों या राज्यों में सड़क मार्ग द्वारा ही सफर करते है तो ये खबर आपके लिए ही है. वैसे तो कोई भी वाहन चलाते समय उसका रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट (Registration Certificate) और ड्राइविंग लाइसेंस (Driving License) होना कानूनी तौर पर बहुत जरूरी है. लेकिन, अब ड्राइविंग लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट का डिजाइन बदलने जा रहा है. बता दें कि हर राज्य में ड्राइविंग लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट का फॉर्मेट अलग-अलग होता है. कई बार तो ड्राइविंग लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट में कंफ्यूजन हो जाता है. इसके अलावा अलग-अलग राज्यों के प्रारूप अलग होने से भी उनमें नियम भी अलग-अलग तरीके से दर्ज होते हैं. लेकिन, अब आने वाले 1 अक्टूबर से ऐसा बिल्कुल भी नहीं होगा.


Also Read: पारले कंपनी के व्यापार में गिरावट, जा सकती है 10,000 से ज्यादा लोगों की नौकरी


दरअसल, ड्राइविंग लाइसेंस आने वाले समय में बदल जाएगा. ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के नियमों में केंद्र सरकार बदलाव करने जा रही है. नया नियम इस साल 1 अक्टूबर से लागू हो जाएगा. अब गाड़ी का डीएल और आरसी दोनों एक जैसे होंगे. यानी अब हर राज्य में डीएल और आरसी का रंग समान होगा. इसको लेकर सरकार ने नोटिफिकेशन जारी कर दिया है. इस नोटिफिकेशन के मुताबिक डीएल और आरसी में जानकारियां एक जैसी और एक ही जगह पर होंगी.


Also Read: भारत के इस कदम से पाक में आ सकती है बाढ़, हो जायेगा इतना पानी कि डूब जाएंगे पाकिस्तानी


ये होंगे बदलाव

एक खबर के अनुसार डीएल और आरसी का डिजाइन पूरे देश में एक जैसा होगा. डीएल और आरसी पर नियम भी सभी पूरे देश में एक जैसे होंगे और उनकी प्रिंटिंग भी एक जैसी ही होगी. इससे पहले अभी तक ये अलग-अलग होती हैं. ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट के अधिकारियों का कहना है कि इससे ट्रैफिक की जिम्मेदारी संभालने वालों को भी सुविधा होगी. नए बदलाव के बाद डीएल और आरसी को लेकर कोई कंफ्यूजन की स्थिति नहीं रह जाएगी.


Also Read: पाक पीएम की पूर्व पत्नी का बड़ा आरोप, PM मोदी को खुश करने के लिए इमरान खान ने की Article 370 की डील


सरकार ने मांगे लोगों से विचार

इस संबंध में केंद्र सरकार ने पिछले साल एक ड्राफ्ट नोटिफिकेशन जारी किया था, जिसमें लोगों से इस मामले में विचार मांगे गए थे. सरकार ने आम लोगों से मिले सुझावों के आधार पर यह फैसला किया है और नया नोटिफिकेशन जारी किया. नए नियम के बाद डीएल या आरसी में माइक्रोचिप और क्यूआर कोड होंगे जिससे पिछला रिकॉर्ड छिपाया नहीं जा सकेगा. क्यूआर कोड से केंद्रीय डेटा बेस से ड्राइवर या वाहन के पहले के सारे रिकॉर्ड एक जगह पढ़ा जा सकेगा.


Also Read: Video: जब सांसद के गंजे सिर पर PM मोदी फिराने लगे हाथ, ठहाकों से गूंज उठी भूटान यूनिवर्सिटी


बता दें डीएल और आरसी को लेकर फिलहाल हर राज्य अपने-अपने मुताबिक फॉर्मेट तैयार करते रहे हैं. लेकिन इसमें परेशानी यह है कि किसी राज्य में इन पर जानकारियां शुरू में हैं तो किसी राज्य में पीछे की तरफ छपी होती हैं. लेकिन सरकार के नए फैसले के बाद डीएल और आरसी पर जानकारियां एक जैसी जगह पर ही होंगी.


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )


Related news

सपा-बसपा के 10 वर्षों के कार्यकाल में भी इतना निवेश नहीं आया जितना आज आया क्योंकि योगी सरकार में क़ानून का राज है: श्रीकांत शर्मा

BT Bureau

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में लगी आग, पहुंचा सबसे उच्चतम स्तर पर, जानिए अपने शहर का भाव

BT Bureau

सस्ते डेटा के मामले में Airtel देगा Reliance Jio को टक्कर, लॉन्च किया 76 रूपए वाला प्लान

BT Bureau