Breaking Tube
  • Home
  • Government
  • शहीद इंस्पेक्टर सुबोध के परिवार का 30 लाख का लोन चुकाएगी सरकार, शहीद के नाम पर होगा सड़क और कॉलेज का नाम
Government

शहीद इंस्पेक्टर सुबोध के परिवार का 30 लाख का लोन चुकाएगी सरकार, शहीद के नाम पर होगा सड़क और कॉलेज का नाम

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुलंदशहर हिंसा में शहीद हुए इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह के परिजनों से गुरुवार सुबह मुलाकात की. मुख्यमंत्री ने सुबोध की पत्नी और माँ को हर संभव मदद का आश्वासन दिया. सीएम ने कहा कि सरकार पीड़ित परिवार के साथ खड़ी है. सीएम में पीड़ित परिवार को भरोसा दिलाया कि इस मामले में सरकार निष्पक्ष कार्रवाई कर रही है. कोई भी आरोपी बख्शा नहीं जायेगा. सीएम ने पीड़ित परिवार से करीब आधे घंटे तक मुलाकात की. सुबोध सिंह राठौर की पत्नी ने मीडिया को बताया कि वह सरकार की कार्रवाई से खुश हैं.

 

डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि शहीद इंस्पेक्टर सुबोध सिंह के परिवार पर करीब 25-30 लाख का शिक्षा का लोन है जिसे योगी सरकार चुकाएगी. सड़क और कॉलेज का नाम शहीद इंस्पेक्टर के नाम पर रखने का फैसला भी सरकार ने किया है. एटा के जैथरा कुरावली सड़क का नाम शहीद इंस्पेक्टर के नाम पर रखा जाएगा. डीजीपी ने बताया कि शहीद के 2 लड़के हैं. बड़ा बेटा सिविल की तैयारी कर रहा है वहीँ छोटा बेटा लॉ की तैयारी कर रहा है.

 

सीएम योगी आदित्यनाथ ने बुलंदशहर की घटना में दिवंगत पुलिस इंस्पेक्टर की पत्नी को 40 लाख और माता पिता को 10 लाख रुपये आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है. इसके साथ ही उन्होंने शहीद इंस्पेक्टर के परिवार को पेंशन और परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने की घोषणा भी की है. उन्होंने बताया कि योगी सरकार बच्चों की कोचिंग में भी सहायता प्रदान करेगी.

 

Also Read: Video: बुलंदशहर हिंसा के मुख्य आरोपी योगेश राज ने वीडियो जारी कर खुद को बताया बेक़सूर

 

बता दें, सोमवार को बुलंदशहर के स्याना इलाके में गोकशी के विरोध में उग्र भीड़ ने इंस्पेक्टर सुबोध कुमार और सुमित कुमार की मौत हो गयी थी. इस पूरे मामले में पुलिस ने बजरंग दल के जिला संयोजक योगेश राज को मुख्य आरोपी बनाया है. जानकारी के मुताबिक, योगेश राज का संबंध बजरंग दल से है और वह खुद को जिला संयोजक बताता है. बताया जा रहा है कि मुख्य आरोपी योगेश राज भीड़ को बार-बार उकसा रहा था, जिसकी वजह से भीड़ उग्र हो गई. मिली जानकारी के मुताबिक, आरोपी योगेश राज ने गोकशी मामले में एफआईआर दर्ज कराई थी.

 

Also Read: मेरठ: 25 हजार के इनामी गोतस्कर और समाजवादी नेता ‘हाजी आरिफ’ का ‘तमंचे पर डिस्को’ Video वायरल

 

इनमें से 27 लोग नामजद हैं और 50-60 लोग अज्ञात हैं. बताया जा रहा है कि भीड़ की हिंसा मामले में पुलिस ने अभी तक 5 लोगों को गिरफ्तार किया है और चार लोगों को हिरासत में लिया है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुलंदशहर हिंसा में मारे गए इंस्पेक्टर कुमार के परिजनों से कल बुधवार को लखनऊ में मिलेंगे. मुख्य आरोपी बजरंग दल का जिला संयोजक योगेश राज वारदात के 48 घंटे बाद भी फरार है. योगेश राज पर पुलिस ने चुप्पी साध रखी है, वहीं विपक्ष सरकार पर हमलावर है. इस बीच बुधवार को योगेश राज का एक वीडियो व्हॉट्सएप पर वायरल हुआ है. इस वीडियो में योगेश राज खुद को निर्दोष बता रहा है.

 

Also Read: सामने आया बुलंदशहर हिंसा का पूरा Video, पत्थरबाजी कर रहे सुमित को गोली लगने के बाद हुई सुबोध कुमार की हत्या

 

देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करेंआप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

मोदी सरकार की बड़ी कामयाबी, 4 साल में प्रति व्यक्ति औसत आय 80 हजार रुपए पहुंची

BT Bureau

पीएम मोदी आज मनाएंगे 68वां जन्मदिन, वाराणसी की जनता को देंगे 557.40 करोड़ का रिटर्न गिफ्ट

BT Bureau

सीएम योगी के बहराइच दौरे पर जब एथलीट की तरह दौड़ पड़ा प्रशासन, जानें पूरा मामला

BT Bureau

Leave a Comment