Government

अबसे गंगा में गन्दगी की तो जायेंगे सीधा जेल, सरकार ने गंगा प्रदूषण को लेकर बनाया नया क़ानून

मोदी सरकार जब से सत्ता में आई है गंगा की सफाई को लेकर प्रयास किये जा रहे हैं लेकिन इस मोर्चे पर सरकार को कोई बड़ी सफलता अभी तक नहीं मिली है. इन्हीं प्रयासों की कड़ी में सरकार ने ‘गंगा विधेयक 2018’ प्रस्तावित किया है. जिसमें ‘गंगा प्रोटेक्शन कॉर्प्स’ की नियुक्ति का सुझाव दिया गया है.

 

Also Read: एक बार फिर ‘कन्फ्यूज़’ हुए राहुल, पीएम मोदी पर हमला करते वक्त कर बैठे ये बड़ी गलती

 

सरकारी दस्तावेज और संबंधित लोगों के मुताबिक़ गंगा प्रोटेक्शन कॉर्प्स के पास गंगा पदूषित कर रहे लोगों को गिरफ्तार करने का भी अधिकार होगा. इन पुलिसकर्मियों का खर्च गृह मंत्रालय उठाएगा.

 

Also Read: राहुल की रैली में लाए गए मजदूरों को नहीं मिला पूरा पैसा, बोले- 300 रुपए पर लाए थे 100 ही दिए

 

बता दें, काउंसिल पांच विशेषज्ञों की एक टीम है जिनके पास किसी उद्योग, बांधों और अन्य ढांचों के निर्माण को बंद करने या उनका विनियमन करने का अधिकार है.

 

Also Read: क्यों बढ़ रहा है मोदी सरकार और RBI के बीच तनाव?, जानें क्या है सेक्शन 7

 

इस विधेयक को जल संसाधन मंत्रालय के सचिव यूपी सिंह ने पुष्टि की कि मसौदे को मंत्रालयों के पास भेज दिया गया है. उन्होंने कहा, ‘सभी मंत्रियों द्वारा देखे जाने के बाद इसे अंतिम रूप दिया जाएगा.’ विधेयक के मुताबिक़ पुलिसकर्मियों के पास दोषियों को गिरफ्तार करने, हिरासत में लेने तथा उसे संबंधित पुलिस थाने में ले जाने का अधिकार होगा.

 

Also Read: ‘भांग की खेती’ को लेकर अखिलेश की चेतावनी पर भाजपा का तंज- ‘शाम की दवा’ सस्ती करने का दावा कर वोट माँगने वाले भी आज नशाखोरी पर ज्ञान दे रहे

 

देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करेंआप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

27 total views, 2 views today

Related news

अमृतसर रेल हादसा : नवजोत सिंह सिद्दू की पत्नी थीं मुख्य अतिथि, इसलिए बिना परमिशन आयोजित हुआ दशहरा कार्यक्रम

Jitendra Nishad

ट्रेन-18 का नाम बदलकर हुआ ‘वन्दे मातरम एक्सप्रेस’, जानें इसकी खासियत

BT Bureau

ट्विटर कैम्पेन पर “मैं भारतीय मुस्लिम, मैं भी इंसान” स्लेबस को लेकर भिड़ंत

Satya Prakash

Leave a Comment