Breaking Tube
International

अब यह देश भी देगा कंगाल पाकिस्तान को बड़ा झटका, सब्जियों के साथ फलों पर भी बढ़ाएगा शुल्क

Afghanistan will increase duty on Pakistan along with vegetables and fruits

पाकिस्तान (Pakistan) पर लगातार संकट के बादल छाये हुए है. आर्थिक परेशानी से जूझ रहे पाकिस्तान को अब पड़ोसी देश अफगानिस्तान (Afganistan) की तरफ से बड़ा झटका लग सकता है. अफगानिस्तान के कई व्यापारियों ने अपनी सरकार से पाकिस्तान के मौसमी निर्यात पर शुल्क बढ़ाने का आह्वान किया है. मीडिया की तरफ से इस बारे में जानकारी दी गई. टोलो न्यूज के मुताबिक व्यापारियों ने कहा कि ‘फल और सब्जियों को लेकर सरकार को ना सिर्फ पाकिस्तान पर, बल्कि ईरान पर भी शुल्क बढ़ाना चाहिए. घरेलू बाजार वर्तमान में ईरानी और पाकिस्तानी फलों और सब्जियों से भरे हुए हैं और यह सभी आफगानिस्तान में भी होते हैं’.


Also Read: पाकिस्तान को सता रहा ‘डार्क ग्रे’ लिस्ट में डाले जाने का डर, FATF की बैठक में दोस्तों ने भी नहीं दिया साथ


व्यापारियों ने यह भी कहा कि सरकार घरेलू उत्पादकों को बढ़ावा देने के लिए कुछ नहीं कर रही है. साथ ही एक व्यापारी अशरफ ने कहा कि ‘जब हमारे फलों का मौसम आता है, पाकिस्तान भारी शुल्क लगा देता है और हमें अपने उत्पादों को कम दाम पर बेचना पड़ता है’. वहीं, एक अन्य व्यवसायी कोदरतुल्लाह ने कहा कि ‘ईरान और पाकिस्तान के उत्पादों पर आयात शुल्क बढ़ाया जाना चाहिए. यह स्वयं सरकार के पक्ष में है. अगर अधिक शुल्क नहीं होगा तो इसका खामियाजा घरेलू कृषि बाजार को भुगतना पड़ेगा’.


Also Read: पाकिस्तानी बच्चों के मन में घोला जा रहा नफरत का मजहबी जहर, ‘मजा आएगा जब हम गाय के कबाब खाएंगे’, देखें वायरल Video


बता दें आलू के किसानों के लिए फसल का मौसम आ गया है. लेकिन बाजार नहीं होने के चलते उन्हें परेशानियां हो रही हैं. इस समय प्रति किलोग्राम आलू 12 अफगानी (0.15 डॉलर) में बिक रहा है.


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

यात्री की तबीयत खराब होने पर फ्लाइट की लाहौर में इमरजेंसी लैंडिंग, भारतीय होने के कारण पाक ने किया इलाज से इंकार

BT Bureau

अबुधाबी: अप्रैल में रखी जाएगी पहले हिंदू मंदिर की आधारशिला, पीएम मोदी का रोल है अहम

S N Tiwari

युद्ध की तैयारी में जुटा पाकिस्तान, लद्दाख सीमा के पास तैनात कर रहा लड़ाकू जेट

S N Tiwari