International

संयुक्त राष्ट्र संघ का दावा, रोहिंग्याओं की वापसी से आग बबूला हुए बौद्ध

rohingya

म्यांमार के साथ पूरी दुनियाभर में जिस वजह से हाहाकार मचा हुआ था. एक बार फिर से खलबली मचने की आशंका जताई जा रही है. हम बात कर रहे हैं म्यांमार में हुए उन्मादी रोहिंग्या तथा बौद्धों के बीच संघर्ष की. सूत्रों से मिली खबर के अनुसार म्यांमार में रोहिंग्याओं की वापसी होते ही म्यांमार के बौद्ध एक बार फिर से आग बबूला उठे हैं. संयुक्त राष्ट्र संघ ने ये दावा किया है.

 

Also Read: यूपी: योगी सरकार में ताबड़तोड़ पुलिस एनकाउंटर के दिखे नतीजे, घटा अपराध का ग्राफ

 

रोहिंग्याओं की पुनर्वापसी से खुश नहीं वहां के बौद्ध

सूत्रों से मिली खबर के अनुसार संयुक्त राष्ट्र संघ ने म्यांमार में रोहिंग्या मुसलमानों के ख़िलाफ़ दमन की नई लहर शुरु होने पर चिंता जतायी है. इस खबर के अनुसार संयुक्त राष्ट्र संघ ने कहा- ‘म्यांमार में सैनिकों के हाथों दमन की नई लहर की वजह से साल 2017 की तरह इस साल 7 लाख से ज़्यादा मुसलमान फ़रार कर सकते हैं’. सूत्रों के हवाले से ये भी दावा किया जा रहा है कि म्यांमार में रोहिंग्याओं की पुनर्वापसी से वहां के बौद्ध खुश नहीं है.

 

Image result for रोहिंग्या  बौद्ध

 

Also Read: सपा कार्यकर्ता कान खोलकर सुन लें, आज से मायावती जी का अपमान हमारा अपमान है: अखिलेश यादव

 

रोहिंग्या तथा बौद्धों के बीच हुआ था भीषण संघर्ष

गौरतलब है कि म्यांमार में एक समय रोहिंग्या तथा बौद्धों के बीच भीषण संघर्ष हुआ था. रोहिंग्या उन्मादियों की प्रताड़ना से तंग आकर जब म्यांमार के बौद्धों का धैर्य जवाब दे गया तो उन्होंने वो प्रतिकार किया कि बड़ी रोहिंग्याओं को म्यांमार छोड़कर भागना भागना पड़ा था. लेकिन म्यांमार में रोहिंग्याओं की पुनर्वापसी की खबर से वहां के बौद्ध खुश नहीं है.

 

Also Read: मायावती बोलीं- लोगों से आग्रह है कि शिवपाल यादव जैसी फर्जी पार्टियों के जाल में न फंसे

 

देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करेंआप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

इन 2 भारतीय महिलाओं ने डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ भरी हुंकार, 2020 में देंगी कड़ी टक्कर

S N Tiwari

पाकिस्तान संसद में हज सब्सिडी को लेकर हंगामा, सांसदों ने दी भारत की मिसाल

S N Tiwari

भारतीय मूल के नोबेल पुरस्कार विजेता लेखक सर वीएस नायपॉल का निधन

BT Bureau