Breaking Tube
International

पाकिस्तान: ईशनिंदा के आरोप में हिंदू शिक्षक को जमकर पीटा, भीड़ ने मंदिर, घरों और स्कूल में की तोड़फोड़, Video वायरल

Fiercely Beaten by Hindu Teacher in charge of Blasphemy in Sindh Pakistan

पाकिस्तान (Pakistan) में एक बार फिर हिंदुओं (Hindu) पर अत्याचार करने का मामला सामने आया है. जहां के सिंध (Sindh) प्रांत के एक स्कूल में अल्पसंख्यक हिंदू समुदाय के प्रधानाचार्य के खिलाफ कथित तौर पर ईशनिंदा (Blasphemy) का मामला दर्ज होने के बाद रविवार को प्रांत के कई इलाकों में दंगे भड़क गए. पाक मीडिया के मुताबिक भीड़ ने गोटकी शहर में एक हिंदू मंदिर, स्कूल और घरों जमकर में तोड़फोड़ की, साथ ही हिंदू प्रधानाचार्य के साथ भी मारपीट की. स्कूल में तोड़फोड़ का विडियो सोशल मीडिया पर जारी हो गया है. पाकिस्तान में ईशनिंदा सबसे बड़ा अपराध माना जाता है.


Also Read: पाक पीएम इमरान खान ने कबूला, ‘अगर भारत से युद्ध हुआ तो हारेगा पाकिस्तान’


पाकिस्तान मानवाधिकार आयोग ने भीड़ द्वारा स्कूल में तोड़फोड़ किए जाने से संबंधित एक विडियो साझा करते हुए स्थिति पर गंभीर चिंता जताई है. आयोग ने कहा है कि ‘पुलिस-प्रशासन जरूरी कदम उठाए और स्कूल प्रिंसिपल की सुरक्षा सुनिश्चित की जानी चाहिए’. आयोग ने वीडियो को दहलाने वाला बताया है. आयोग का कहना है कि ‘एक धार्मिक अल्पसंख्यक समुदाय के खिलाफ भीड़ की हिंसा बर्बरता है और इसे स्वीकार नहीं किया जा सकता’.



Also Read: भारत ने आयोजित किया SCO सम्मेलन, बैठक में शामिल नहीं हुआ पाकिस्तान लेकिन खाना खाने पहुंच गए पाक अधिकारी


वहीं, वर्ल्ड सिंधी कांग्रेस ने ट्वीट करके कहा कि ‘एक हिंदू स्कूल प्रिंसिपल के खिलाफ ईशनिंदा के आरोप लगने के बाद घोटकी सिंध में हिंसा. प्रिंसिपल के स्कूल, हिंदू मंदिर, दुकानें, घरों में भीड़ ने की तोड़फोड़. अल्पसंख्यकों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए दुनिया को पाकिस्तान पर दबाव डालना चाहिए’. पाक पत्रकार ने भी इस घटना का विडियो शेयर करते हुए कहा कि ‘इलाके में हिंदू समुदाय खतरे में है. उनकी सुरक्षा की व्यवस्था की जानी चाहिए’.


Also Read: पाकिस्तान: नाबालिग हिंदू लड़की को अगवा कर कराया धर्म परिवर्तन, फिर जबरन करवाई शादी


इस तरह शुरू हुआ विवाद

एक छात्र के पिता अब्दुल अजीज राजपूत की शिकायत पर सिंध पब्लिक स्कूल के प्रधानाचार्य नोतन मल के खिलाफ शिकायत दर्ज की गई है. राजपूत का आरोप है कि शिक्षक ने इस्लाम के पैगंबर के खिलाफ कथित अपमानजनक टिप्पणी कर ईशनिंदा की है. स्कूल के प्रधानाचार्य के खिलाफ मामला दर्ज होने के बाद घोटकी जिले में व्यापक पैमाने पर प्रदर्शन हुए. प्रदर्शनकारियों ने प्रिंसिपल की गिरफ्तारी की मांग की.


इसके बाद एडिशनल इंस्पेक्टर जनरल ऑफ पुलिस (AIG) जमील अहमद ने कहा कि पुलिस ने आरोपी को सुरक्षा के लिए हिरासत में ले लिया है. घोटकी के सीनियर इंस्पेक्टर फारुख लंजार ने मीडिया से बातचीत में कहा कि पुलिस क्षेत्र में कानून एवं व्यवस्था की स्थिति पर काबू कर रही है. उधर, पाकिस्तान मानवाधिकार आयोग ने प्रदर्शनकारियों द्वारा स्कूल और मंंदिर में तोड़फोड़ किए जाने से संबंधित एक वीडियो शेयर करते हुए स्थिति पर गंभीर चिंता जाहिर की है. मानवाधिकार संगठन ने एक ट्वीट में कहा कि ‘घोटकी में ईशनिंदा के आरोपों की खबरें चिंताजनक है’.


Also Read: सऊदी अरब में बगावत पर उतरीं मुस्लिम महिलाएं, छोड़ रहीं बुर्का पहनना


पीटीआई नेता ने कहा

पाकिस्तान हिंदू परिषद के प्रमुख और पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के नेता रमेश कुमार वांकवानी ने कहा कि प्रिंसिपल को सुरक्षा कारणों से किसी अज्ञात स्थान पर ले जाया गया है. उन्हें मामले की विस्तृत जांच के लिए हैदराबाद के डीआईजी नईम शेख के हवाले किया जाएगा. मीरपुर माथेलो और आदिलपुर सहित आसपास के शहरों में भी विरोध प्रदर्शन हुए जहां प्रदर्शनकारियों ने सड़कों को जाम कर दिया और स्कूल के प्रधानाचार्य को गिरफ्तार किये जाने की मांग की.



( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

पाकिस्तान विमानन विभाग ने किया खुलासा, पाकिस्तान में 10वीं फेल उड़ा रहे हवाई जहाज

BT Bureau

पाकिस्तान ने पूण्यतिथि पर टीपू सुल्तान को किया याद, शशि थरूर ने की इमरान खान की सराहना

BT Bureau

पीएनबी घोटाला: भगोड़े मेहुल चौकसी ने भारत की नागरिकता छोड़ी, अब कौन सा रास्ता अपनाएगी मोदी सरकार?

S N Tiwari