Breaking Tube
International Social

पाकिस्तान: नाबालिग लड़कियों का जबरन कराया जा रहा धर्म परिवर्तन, डरे हुए नेताओं ने प्रस्ताव में नहीं लिखा ‘हिंदू’ शब्द

Minor Girls of Hindu Community forcibly admitted being Religion Change in Pakistan

मामला पाकिस्तान (Pakistan) के कराची जिले का है. जहां के सिंध प्रांत में हिंदू समुदाय (Hindu Community) की नाबालिग लड़कियों (Minor Girls) के अपहरण और उनके जबरन धर्म परिवर्तन (Religion Change) करने का मुद्दा पूरी विधानसभा में गूंज रहा है. सभी दलों के नेताओं ने इस मामले पर चिंता जताते हुए कहा कि इसे तुरंत रोकने की जरूरत है. लंबी चर्चा के बाद सदन ने लड़कियों के अपहरण और जबरन धर्म परिवर्तन के खिलाफ सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित किया. वहीं, मंगलवार को विपक्षी ग्रैंड डेमोक्रेटिक अलायंस के विधायक नंद कुमार गोकलानी की तरफ से पेश इस निजी विधेयक में सदन ने ‘हिंदू लड़कियों’ के स्थान पर ‘हिंदू’ हटाकर केवल ‘लड़कियों’ शब्द का इस्तेमाल करते हुए प्रस्ताव पारित किया.


Also Read: भारत की जीत: ICJ में पाकिस्तान को लगा बड़ा झटका, कुलभूषण जाधव की फांसी पर लगी रोक


सदन में पारित प्रस्ताव में कहा गया है कि ‘इस सदन का यह दृढ़ मत है कि प्रांतीय सरकार हाल के दिनों में सिंध के विभिन्न जिलों में लड़कियों के अपहरण की घटनाओं का संज्ञान ले और जबरन धर्म परिवर्तन को रोकने के लिए मुजरिमों को सख्त से सख्त सजा दिलाए’. वहीं, पाकिस्तानी मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट में कहा गया है कि गोकलानी के इस विधेयक का राज्य में सत्तारूढ़ पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी), मुत्तहिदा कौमी मूवमेंट (एमक्यूएम), पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) और जमात-ए-इस्लामी ने समर्थन किया.


प्रस्ताव पारित होने से पहले विपक्षी ग्रैंड डेमोक्रेटिक अलायंस के विधायक नंद कुमार गोकलानी ने अपने भाषण में कहा कि ‘बीते कुछ महीनों में सिंध के बादिन, थट्टा, मीरपुर खास, कराची, टांडो मोहम्मद खान, खैरपुर मीर, हैदराबाद व अन्य इलाकों की करीब 40 हिंदू लड़कियों का जबरन धर्म परिवर्तन कराया गया है, इनमें अधिकांश नाबालिग हैं. इस सदन ने बाल विवाह के खिलाफ कानून पारित किया हुआ है. हमारे समुदाय की नाबालिग लड़कियां लापता हो जाती हैं और कुछ दिन में वे किसी मदरसे में सामने आती हैं और उनकी किसी मुस्लिम लड़के से शादी हो रही होती है, यह सभी कुछ दबाव में हो रहा है’.


Also Read: मुंबई हमले का मास्टरमाइंड हाफिज सईद लाहौर से गिरफ्तार, वकील ने कहा- सब ड्रामा है, दुनिया को पागल बना रहा पाकिस्तान


गोकलानी ने कहा कि ‘अगर लड़कियां स्वेच्छा से घर से जाएं और खुद से अपने बारे में फैसला करें तो इस पर हिंदू समुदाय को कोई आपत्ति नहीं है. लेकिन अपहरण और जबरन धर्म परिवर्तन को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा’. उन्होंने सत्तारूढ़ पीपीपी द्वारा इस समस्या पर ध्यान नहीं देने का आरोप लगाते हुए पीपीपी की दिवंगत नेता बेनजीर भुट्टो द्वारा अल्पसंख्यकों के हित में उठाए गए कदमों को याद करते हुए कहा कि ‘अगर आज बेनजीर जिंदा होतीं तो हमें इन हालात का सामना नहीं करना पड़ता’.


पाकिस्तान में हिंदू लड़कियों का हो रहा जबरन धर्म परिवर्तन, बोलने से डर रहे नेता

आगे उन्होंने कहा कि ‘हम अल्पसंख्यक अपने मुस्लिम भाइयों की ही तरह देश के प्रति वफादार हैं. लेकिन, अगर हमारी लड़कियों का धर्म परिवर्तन होता है तो फिर हम कहा जाएंगे. शायद, इसी समस्या की वजह से कई हिंदू पाकिस्तान छोड़कर चले गए हैं’.


Also Read: सऊदी अरब में होगा इस कानून का बदलाव, महिलाओं को मिलेगी कहीं भी घूमने की पूरी आजादी


उधर, एमक्यूएम की विधायक मंगला शर्मा ने कहा कि ‘क्यों केवल हिंदू लड़कियों का ही अपहरण कर उनका धर्म परिवर्तन कराया जाता है? क्यों हिंदू लड़के इस तरफ आकर्षित नहीं होते? ऐसी ही समस्याओं के कारण देश में गैर मुस्लिम आबादी घट रही है. तमाम दबावों के बावजूद हम अपना वतन नहीं छोड़ेंगे और यहीं अपने खिलाफ खड़ी ताकतों से लड़ेंगे’.


पीटीआई विधायक खुर्रम शेर जमां ने हिंदू समुदाय के साथ एकजुटता तो जताई लेकिन कहा कि प्रस्ताव से ‘हिंदू लड़की’ शब्द हटा देना चाहिए. क्योंकि इससे विदेश में पाकिस्तान की बदनामी होती है और अपहरण मुस्लिम लड़कियों का भी हो रहा है. इसलिए इसके दायरे में सभी लड़कियों को लाया जाना चाहिए.


Also Read: डोनाल्ड ट्रंप ने की महिला सांसदों पर नस्लीय टिप्पणी, कहा- अमेरिका छोड़कर अपने उजड़े और अपराध ग्रस्त देशों में लौट जाएं


संसदीय कार्य मंत्री मुकेश कुमार चावला ने सदन को आश्वस्त किया कि सरकार धर्म परिवर्तन को रोकने के लिए कानून लाने पर गंभीर है. अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री हरिराम किशोरी लाल ने स्वीकार किया किया कि ‘हिंदू लड़कियों के अपहरण की समस्या वास्तविकता है. हम इस पर काबू पाने के लिए पूरा प्रयास कर रहे हैं’. इस पर काबू पाने के लिए सरकार की क्या रणनीति होगी? यह बात उन्होंने स्पष्ट नहीं की.


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमेंफेसबुकपर ज्वॉइन करें, आप हमेंट्विटरपर भी फॉलो कर सकते हैं. )


Related news

‘चायवाले’ को जनता जनता ने चुन लिया सांसद, पाकिस्‍तानी सांसद निकला ‘करोड़पति’

BT Bureau

चंदौली: खालिद ने खुद ही लगाई थी आग, ‘जय श्रीराम’ न कहने का लगाया झूठा आरोप, चश्मदीद बोला- मजार से आग लगाकर भागते देखा

BT Bureau

Jio के बाद अब Airtel और Voda ने भी पोर्न साइट्स को किया बैन, यूजर्स ने निकाला देखने का ये तरीका

Satya Prakash