Breaking Tube
International

पाक ने दी भारत पर परमाणु हमला करने की गीदड़भभकी, इमरान खान बोले- अब बातचीत का कोई मतलब नहीं बचा

Pakistan PM Imran Khan threatens to launch nuclear attack on India

पाकिस्तान (Pakistan) के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) ने कहा है कि वह भारत (India) के साथ बातचीत नहीं करना चाहते हैं. एक अमेरिकी अखबार The New York Times को दिए इंटरव्यू में इमरान खान ने परमाणु हमले की गीदड़भभकी भी दी है. The New York Times के अनुसार इमरान ने कहा कि ‘भारत से बात करने का कोई मतलब नहीं बचा है. मेरा मतलब है, मैंने सब कुछ कर लिया. दुर्भाग्य से अब जब मैं पीछे मुड़कर देखता हूं तो शांति और संवाद के लिए जो मैं कर रहा था, मुझे लगता है उन्होंने इसे तुष्टीकरण माना’.


Also Read: अब प्रियंका चोपड़ा पर खिसियाया पाकिस्तान, UNISEF से हटाने के लिए UN से की अपील


साथ ही इमरान खान ने चेतावनी दी कि अगर भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ सैन्य कार्रवाई शुरू की तो पाकिस्तान परमाणु हमला कर जवाब देने के लिए मजबूर होगा. इमरान ने आगे कहा कि ‘भारत पाकिस्तान के खिलाफ कार्रवाई को सही ठहराने के लिए कश्मीर में झूठा अभियान शुरू कर सकता है. मेरी चिंता यह है कि यह बढ़ सकता है और दो परमाणु-सशस्त्र देशों के लिए यह पूरी दुनिया के लिए खतरनाक साबित होगा’.


इससे पहले इमरान खान ने मंगलवार को कहा था कि पाकिस्तान के लिये कश्मीर सुरक्षा की पहली पंक्ति है. उनकी कैबिनेट ने यह फैसला किया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अगले महीने जब संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करेंगे तब उस दौरान पाकिस्तान कश्मीर में स्थति को रेखांकित करेगा. खान की अध्यक्षता में मंगलवार को हुई कैबिनेट की बैठक के बाद यह घटनाक्रम सामने आया है.


Also Read: Video: लड़की ने चलती ट्रेन में किया कुछ ऐसा काम, रातोरात बनी इंटरनेट ‘स्टार’


पाकिस्तान के प्रधानमंत्री की सूचना मामलों की विशेष सहायक फिरदौस आशिक अवान ने कहा कि कैबिनेट की बैठक के दौरान खान ने जोर दिया कि कश्मीर पाकिस्तान के लिये सुरक्षा की पहली पंक्ति है. उन्होंने कहा कि मोदी 27 सितंबर को खान से पहले संयुक्तराष्ट्र महासभा को संबोधित करेंगे.


वहीं, पाकिस्तान के विदेश कार्यालय के प्रवक्ता मुहम्मद फैसल ने बुधवार को कहा कि इस्लामाबाद कश्मीर मुद्दे को संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (UNHRC) में उठाने की योजना बना रहा है. कश्मीर और गिलगिट-बल्तिस्तान मामलों की सीनेट कमेटी को फैसल ने अवगत कराया कि यूएनएचआरसी फोरम के इस्तेमाल सहित विभिन्न विकल्पों को लेकर चर्चा की जा रही है.


Also Read: भारतीय सेना का बदला, विंग कमांडर अभिनंदन को पकड़ने और प्रताड़ित करने वाले पाक कमांडो को किया ढेर


उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के लिए उपलब्ध दूसरा विकल्प मुद्दे को इस्लामी सहयोग संगठन (OIC) के विदेश मंत्रियों की बैठक में उठाने का है. भारत द्वारा नियंत्रण रेखा पर कथित संघर्षविराम उल्लंघन किए जाने के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि स्थिति खतरनाक है और दोनों पक्षों को जनहानि का सामना करना पड़ रहा है. इस बीच पाक विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने बुधवार को नॉर्वे की विदेश मंत्री आइने मैरी एरिकसेन सोरीडे से फोन पर बात की और कश्मीर मुद्दे पर चर्चा की.


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )


Related news

चीन को दरकिनार कर आतंकी मसूद अजहर के खिलाफ फ्रांस की बड़ी कार्रवाई, संपत्ति करेगा जब्त

admin

चीन ने तैयार किया न्यूज़ पढ़ने वाला रोबोट, खतरे में पड़ सकती है एंकरों की नौकरी

Satya Prakash

इजराइल: पीएम के बेटे का फेसबुक अकाउंट हुआ बंद, मुस्लिमों को लेकर किया था विवादित पोस्ट

BT Bureau