Breaking Tube
Lifestyle

जानें कैसे बदलते मौसम में प्रकृति की मदद से रखे अपनी सेहत का खास ख्याल

लाइफस्टाइल: इन दिनों बदलते मौसम में अक्सर लोगों को स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां होती हैं ऐसे में खुद को चुस्त-दुरुस्त रखना किसी चुनौती से कम नहीं होता. लेकिन प्राकृतिक चिकित्सा आपको फिट रखने में मदद करती है. प्राकृतिक चिकित्सा के क्षेत्र में कई संस्थान भी काम कर रहे हैं. हाल ही में राष्ट्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण संस्थान नई दिल्ली ने भी अपनी एक पत्रिका का विमोचन किया. ‘जन स्वास्थ्य स्वास्थ्य धारणा’ नाम की इस पत्रिका में प्राकृतिक चिकित्सा से संबंधित तमाम जानकारियां दी गई हैं. इस पत्रिका का विमोचन बीते शनिवार निदेशक निदेशक जयंत दास दास, डॉ. एस एन धर्मसत्तू और डॉ. आलोक मुखोपाध्याय ने किया.


इस पत्रिका के 24वें अंक में स्वास्थ्य से संबंधित तमाम महत्वपूर्ण विषयों के बारे में बताया गया है. इस पत्रिका में बदलते मौसम में अपने स्वास्थ्य को फिट रखने के उपाय और पौष्टिक भोजन के महत्व के बारे में जानकारी दी गई है. यही नहीं रोजमर्रा में इस्तेमाल की जाने वाली हल्दी के गुणों के बारे में भी इस पत्रिका में बताया गया है. वैसे आपको बता दें कि हल्दी के योग से सांस संबंधी बीमारियां, कैंसर, सर्दी और खांसी, गठिया, पाचन संबंधी जैसी कई बीमारियों का समाधान हो जाता है.


Related image

मरीज और डॉक्टरों के बीच आपसी संबंध या व्यवहार किस प्रकार का होना चाहिए इसको समझाते हुए आलेख भी यहां आपको मिल जाएंगे. प्राकृतिक चिकित्सा के माध्यम से और अपने आहार-विहार को संतुलित और नियमित करके आप किस प्रकार स्वयं को स्वस्थ रख सकते हैं, इसकी जानकारी भी इन लेखों में दी गई है.




Also Read :जिंदगी में स्ट्रेस फ्री और पॉजिटिव रहने के लिए डाइट में शामिल करें ये 5 सुपरफूड


साथ ही आंवला जैसे फल का उपयोग डायबिटीज, एसिडिटी, पथरी इत्यादि बीमारियों में किस प्रकार लाभकारी हो सकता है. हड्डियों को किस प्रकार स्वस्थ रखा जाना चाहिए और मलेरिया से किस प्रकार बचाव एवं उसका उपचार किया जाना चाहिए, ऐसी तमाम जानकारियां इस पत्रिका में दी गई हैं. इस पुस्तक में हिंदी के सुप्रसिद्ध विद्वान प्रोफेसर नामवर सिंह के साथ डॉ. गणेश शंकर श्रीवास्तव का साक्षात्कार भी दिया गया है. इस पत्रिका को आप संस्थान प्राप्त करने के अलावा संस्थान की वेबसाइट WWW. nihfw. org पर भी उपलब्ध है.


Also Read: ज्यादा स्मार्टफोन का इस्तेमाल करना हो सकता है घातक, जानिए क्या है वजह!


देश और दुनिया की खबरों के लिए हमेंफेसबुकपर ज्वॉइन करेंआप हमेंट्विटरपर भी फॉलो कर सकते हैं. )


Related news

अंजीर का नियमित सेवन है वरदान, इन 4 बीमारियों में मिलेगा समाधान

Satya Prakash

अगर आप भी हैं रोज-रोज के बदन दर्द और कमजोरी के शिकार, तो करें ये काम, जल्द मिलेगा आराम

Satya Prakash

किशमिश को न करें कभी मिस, इन गंभीर बीमारियों को करता है टाय-टाय फिस्स

Satya Prakash