Breaking Tube
Lifestyle

मुँह के कुछ बैक्टीरिया भी होते हैं फायदेमंद, जानकार रह जाएंगे हैरान

लाइफस्टाइल: क्या आप अनुमान लगा सकते हैं कि किसी व्यक्ति के मुंह में कितने बैक्टीरिया हो सकते हैं. अगर आपसे कहा जाए कि यह संख्या पृथ्वी पर रहने वाले कुल लोगों या इससे भी अधिक के बराबर होती है, तो कैसा लगेगा? यह संख्या हर किसी को हैरान कर सकती है लेकिन यह सच है एक हालिया रिपोर्ट के अनुसार मुंह में 6 अरब से भी अधिक बैक्टीरिया का घर माना जाता है. इस पर विश्वास करना मुश्किल है लेकिन बैक्टीरिया विभिन्न समुदाय में रहते हैं, शोधकर्ताओं की मानें तो मुँह में 1 मिलीग्राम में आमतौर पर लगभग 100 मिलियन माइक्रोब्स होते हैं. इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि मुंह कितने बैक्टीरिया हो सकते हैं.


Image result for mouth good bacteria
Related image

इस पर किए गए कई अध्ध्यनों के शोधकर्ताओं ने 700 से अधिक विभिन्न प्रकार की प्रजातियों की पहचान भी की है, जो मानव में रहते हैं. वैसे आपको चिंता करने की जरूरत नहीं है, क्योंकि इनमें से अधिकांश बैक्टीरिया हानिरहित होते हैं और शरीर के लिए जरूरी भी होते हैं जबकि उनमें से कुछ हानिकारक होते हैं, जैसे स्ट्रेप्टोकोकस।ये चीनी और कार्बोहाइड्रेट को खाते हैं, और विषाक्त एसिड का उत्पादन करते हैं, जो आपके दांत के इनमेल नुक्सान पहुंचाता है, वही प्रोबायोटिक बैक्टीरिया ओरल हेल्थ को सही रखते है. कुछ अन्य तरह के बैक्टीरिया न तो हानिकारक हैं और न ही फायदेमंद।


Also Read: हवन से होता है वायु प्रदूषण कम, रिसर्च में वैज्ञानिकों ने किये चमत्कारी दावे


अगर मुंह की सेहत चाहते हैं, तो पौधे आधारित खाद्य पदार्थ जैसे फल, सब्जियां, साबुत अनाज, फलियां, दाल, टोफू और नट्स आदि का सेवन करें एसिडिटी पेय पदार्थों के सेवन से बचें और नियमित ओरल हेल्थ को लेकर सचेत रहें.


Also Read:नीम का सेवन चेहरे और स्वास्थ्य के लिए है वरदान, अद्भुत फायदे जानकर हो जाएंगे हैरान


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

मोबाइल में बार-बार देखने से जा सकती है आपकी जान, हार्मोन के लिए है घातक

Satya Prakash

कान के दर्द से हो सकती है जानलेवा बीमारी, इस मरीज के साथ हुआ ऐसा कि डॉक्टर्स के भी उड़ गए होश

Satya Prakash

अल्सर की समस्या में इन घरेलू उपाय से मिलेगा छुटकारा, जानिए क्या हैं बीमारी के लक्षण

Satya Prakash