Breaking Tube
Lok Sabha 2019 Politics

प्रियंका का मिशन यूपी, 3 दिन में 40 घंटे तक और 42 लोकसभा सीटों के लिए मैराथन बैठक

3 दिन, 40 घंटे मैराथन बैठक और 42 लोकसभा सीट. कांग्रेस की नवनियुक्त राष्ट्रीय महासचिव और पूर्वी उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी अपनी सियासी पारी की शुरूआत के साथ ही प्रदेश कांग्रेस दफ्तर में बैठ कर काम करने का भी एक रिकार्ड बनाने वाली है. संभवत: इससे पहले शायद ही कोई किसी यूपी प्रभारी ने एक दिन में 13-14 घंटे लगातार बैठ कर काम किया हो. इतना ही समय पश्चिमी उत्तर प्रदेश के प्रभारी राष्ट्रीय महासचिव ज्योतिरादित्य सिन्धिया देंगे.


जानकारी के मुताबिक प्रियंका गांधी और ज्योतिरादित्य सिन्धिया कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ 11 फरवरी को लखनऊ आ रहे हैं. कार्यकर्ताओं के उत्साह को देखते हुए यह निश्चित है कि एयरपोर्ट से प्रदेश कांग्रेस कार्यालय पहुंचने में नेताओं को शाम हो जाएगी. लिहाजा 12 फरवरी से प्रियंका गांधी लोकसभा सीटवार लोगों से मिलेंगी. हर सीट के लिए एक-एक घंटे का समय तय किया गया है. शुरुआत मोहनलाल गंज सुरक्षित सीट से होगी और इस दिन अंतिम बैठक रात साढ़े 11 बजे तक लखनऊ लोकसभा सीट के लोगों के साथ होगी. उन्नाव, वाराणसी, गोरखपुर, कौशाम्बी, फूलपुर, इलाहाबाद, चन्दौली, गाजीपुर, धौरहरा, फतेहपुर के लोगों से भी इसी दिन मुलाकात तय है.


13 फरवरी को बैठकों का दौर एक घंटा पहले 10 बजे बाराबंकी सुरक्षित सीट के साथ होगा. इसके बाद कैसरगंज, बहराइच, बांसगांव, देवरिया, डुमरियागंज, कुशीनगर, संतकबीर नगर, महाराजगंज, फैजाबाद, श्रावस्ती, गोण्डा और बस्ती के लोगों के साथ बैठक होगी. अंतिम दिन भी बैठकों का दौर सुबह 10 से रात साढ़े 11 बजे तक चलेगा. शुरुआत सीतापुर से होगी और अंतिम बैठक मिश्रिख लोकसभा सीट की होगी. सलेमपुर, घोसी, आजमगढ़, लालगंज, मछलीशहर, जौनपुर, राबर्टसगंज, मिर्जापुर, भदोही, अंबेडकरनगर और बलिया के लोगों के साथ भी इसी दिन बैठक हैं. श्रीमती गांधी के वीवीआईपी गेस्ट हाउस में रुकने की खबर है.


Also Read: STING: राम जन्मभूमि विवाद के मुस्लिम पक्षकार बोले- मैंने ही 1992 में चलवाए थे बम, चाहे SC से मंदिर के लिए फैसला आ जाये..ईंट नहीं रखने देंगे


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )


Related news

7 और 8 फरवरी को भाजपा ने सभी लोकसभा सांसदों को हाज़िर होने का आदेश दिया

Ambuj

निर्विरोध सीटों पर विवाद के बाद SC ने कहा- दोबारा नहीं होंगे पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनाव

Ambuj

मध्य प्रदेश में सत्ता प्राप्ति के लिए कांग्रेस अब ‘राम पथ’ पर 

BT Bureau

Leave a Comment