Breaking Tube
Crime

गोरखपुर: मशहूर डॉक्टर को ब्लैकमेल कर 8 लाख वसूलने वाला दारोगा और कथित पत्रकार गिरफ्तार

Gorakhpur police

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में पुलिस ने मनोचिकित्सक डॉक्टर रामशरण दास को फर्जी रेप के आरोप में फंसाकर जेल भेजने की धमकी देने वाले दारोगा और कथित पत्रकार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इस मामले में पीड़ित जिले के एसएसपी से लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तक से शिकायत की थी। पीड़ित डॉक्टर ने बताया कि आरोपियों ने उन्हें ब्लैकमेल करके 8 लाख रूपए वसूल लिए थे।


सीएम योगी ने पुलिस अधिकारियों को फटकारा

मामले की गंभीरता को देखते हुए सीएम योगी की फटकार पर एएसपी रोहन प्रमोद ने जांच कराई तो वसूली की बात सच साबित हुई। सूत्रों के मुताबिक, गोरखपुर के मशहूर मनोचिकित्सक डॉक्टर रामशरण दास को राजघाट थाने की ट्रांसपोर्ट नगर चौकी पर तैनात चौकी इंचार्ज शिव प्रकाश सिंह ने एक युवती से रेप की शिकायत पर बुलाया था।


Also Read: 5 करोड़ दहेज की मांग पूरी न होने पर IPS ने पत्नी को बेरहमी से पीटा, टालमटोल कर रही पुलिस


आरोप है कि चौकी इंचार्ज ने कई बार डॉक्टर को उनके घर जाकर भी धमकाया। वहीं, कथित एक कथित पत्रकार के साथ मिलकर दारोगा ने डॉक्टर को रेप के मुकदमे में फंसाकर जेल भेजने की धमकी देकर आठ लाख रुपए वसूल लिए। पीड़ित डॉक्टर रामशरण दास ने मामले की शिकायत सीएम योगी से की तो उन्होंने पुलिस के आलाधिकारियों को जमकर फटकार लगाई।


Also Read: फिरोजाबाद: पुलिस को फंसाने के लिए लूट के आरोपी ने अपने ही पैर में मारी गोली, Video वायरल


यही नहीं, उन्होंने ट्रांसपोर्ट नगर चौकी इंचार्ज के साथ कथित पत्रकार के खिलाफ मामला दर्ज करने का आदेश दिया है। वहीं, एसएसपी डॉक्टर सुनील गुप्ता ने बताया कि मंगलवार की देर रात चौकी इंचार्ज शिव प्रकाश सिंह और उसके साथी कथित पत्रकार प्रणव त्रिपाठी को गिरफ्तार कर लिया गया। उन्होंने बताया कि महिला ज्योति सिंह के खिलाफ भी मामला दर्ज किया गया है। एसएसपी के मुताबिक महिला ज्योति सिंह की गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम दबिश दे रही है।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमेंफेसबुकपर ज्वॉइन करें, आप हमेंट्विटरपर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

सीतापुर: तीमारदार महिला ने महिला सिपाही को गिराकर चप्पलों से पीटा, Video वायरल

S N Tiwari

कानपुर: लड़के ने फाड़े महिला इंस्पेक्टर के कपड़े, कार्रवाई की जगह पुलिस सुलह का बना रही दबाव

S N Tiwari

विवेक तिवारी हत्याकांड: आरोपी सिपाही संदीप कुमार को मिली जमानत, वकील ने की जज से तीखी बहस

S N Tiwari