Breaking Tube
Crime

बस्ती: विसर्जन को जा रही मूर्ति के रास्ते में मांस फेंकने को लेकर हुआ बवाल, भारी संख्या मे पुलिस बल तैनात

उत्तर प्रदेश के बस्ती (Basti) में विसर्जन के लिए रहीं दुर्गा प्रतिमाओं के रास्ते में मांस फेंकने को लेकर बवाल का मामला सामने आ रहा है. आक्रोशित लोगों ने कुछ दुकानों के काउन्टर व तख्त को जला दिया. आला अफसरों ने मौके पर पहुंचकर मामले को शांत कराया. मामला दो सम्प्रदायों के बीच का होने के कारण किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए एहतियातन इलाके में भारी संख्या में फोर्स तैनात कर दी गई है. शहर में मौजूद सीपीएफएम को भी अमोढ़ा बाजार में लगा दिया गया है.


जानकारी के मुताबिक यह पूरा मामला छावनी थाना क्षेत्र स्थित अमोढ़ा बाजार  का बताया जा रहा है. दैनिक समाचारपत्र हिन्दुस्तान की खबर के मुताबिक देवखाल व आसपास की तीन दुर्गा प्रतिमाएं अमोढ़ा बाजार से गुजर रही थी, जिनका विसर्जन रामरेखा नदी में होना था. आयोजकों का आरोप है कि प्रतिमाओं के रास्ते में कई दुकड़े ताजा मांस का फेंका मिला. आयोजक मांस फेंकने वालों का नाम लेकर भी आरोप लगा रहे थे. प्रतिमाओं को वहीं पर रोक दिया गया.


जानकारी होने पर एसडीएम हर्रैया आशाराम वर्मा व सीओ हर्रैया मय फोर्स पहुंचे. एक बार लोगों को समझा बुझा कर आगे बढ़ाया, लेकिन कुछ लोगों ने तत्काल कार्रवाई की मांग को लेकर अड़ गए. मामला बिगड़ा तो कुछ लोगों ने वहां पर बने मांस की दुकानों के करीब एक दर्जन काउन्टर व दुकानों को तोड़ते हुए आग लगा दिया.


वहीं इस मामले पर डीआईजी आशुतोष कुमार ने बताया कि रामजानकी मार्ग के रास्ते से तीन मूर्तियां विसर्जन के लिए जा रही थी. जब जुलूस रामजानकी मार्ग पर अमोढ़ा बाजार पहुंचा तभी सड़क किनारे मांस का टुकड़ा पड़ा दिखने पर जुलूस में शामिल लोग नाराज हो गई. इसके बाद छावनी पुलिस ने मौके पर पहुचकर मामला शांत कराया. जुलूस जब आगे बढ़ने लगा तभी पीछे चल रहे कुछ उपद्रवियों ने लोगों को भड़का दिया. और मीट की तीन दुकानों और एक बाइक में आगकर सांप्रदायिक हिंसा भड़काने की कोशिश की.


डीआईजी ने बताया कि छावनी पुलिस ने मामले में अज्ञात उपद्रवियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है. अभी मामले में कोई गिरफ्तारी नहीं की गई है. हालात को पूरी तरह नियंत्रण में कर लिया गया है. शांतिपूर्ण ढंग से सभी मूर्तियों का विसर्जन कराया जा रहा है.


मामला दो सम्प्रदायों होने के कारण किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए एहतियातन छावनी समेत कलवारी, हरैया, दुबौलिया, परसरामपुर, पैकोलिया थाने की पुलिस अमोढा कस्बे में तैनात है. इसके अलावा मामले की गंभीरता से लेते हुए दो बटालियन पीएसी, एक फायर गाड़ी तैनात कर दिया गया है.


Also Read: जौनपुर: मुस्लिम बाहुल्य इलाके से गुजर रहे कांवड़ियों पर हमला, ‘बोल बम’ का नारा लगाने पर 2 युवकों का फोड़ा सिर, हालत गंभीर


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

यूपी: खाकी पर संगीन आरोप, महिला बोली- दरोगा और सीओ ने पूरी रात महिला बारी-बारी से ढाए सितम

BT Bureau

हिंदू और बौद्ध महिलाओं की मुस्लिम डॉक्टर ने की धोखे से नसबंदी, अब तक 4 हजार से ज्यादा महिलाओं के साथ कर चुका है मेडिकल जिहाद

S N Tiwari

लखनऊ: VVIP इलाके में दो लोगों को गोली मारकर कैश वैन लूटने वाला गिरफ्तार

BT Bureau