Breaking Tube
Crime Police & Forces

बरेली: पुलिस लाइन के हॉस्टल में महिला दारोगा की निर्ममता से हत्या, धर्म परिवर्तन की आशंका, छानबीन में जुटी पुलिस

lady SI murder in bareilly

उत्तर प्रदेश के बरेली जिले से एक सनसनीखेज वारदात सामने आयी है. जहां पुलिस लाइन के ट्रांजिट हॉस्टल में महिला दारोगा की सिर कुचलकर निर्ममता से हत्या कर दी गयी. जिसके बाद से पुलिस महकमे में हड़कंप मचा हुआ है. वहीं, बड़े आला अधिकारी मामले की छानबीन में जुट गए है. बता दें 55 वर्षीय महिला दारोगा रीना अमरोहा जिले के रामनगर की निवासी थीं. वह जोया थाना क्षेत्र के क्षेत्रीय अभिसूचना इकाई में तैनात थीं. करीब ढाई साल पहले वह बिजनौर से तबादला होकर बरेली में आई थीं. बाद में उन्होंने पुलिस के ट्रांजिट हॉस्टल में घर ले लिया था. ए10-481 में वह अपने एक पुत्र के साथ रहती थीं.


Also Read: सिद्धार्थनगर: पुलिस लाइन में इंस्पेक्टर की बंद कमरे में मिली लाश, मचा हड़कंप


बताया जा रहा है कि मृतका दारोगा रीना का अपने पति शरणवीर सिंह से तलाक हो चुका है. मंगलवार रात को पास में रहने वाले बिथरी थाने के एसएसआई मनोज वर्मा ने रीना के घर का दरवाजा खुला देखा. उनके आवाज देने पर भी जब कोई जवाब नहीं आया तो अंदर जाकर देखा. अंदर घुसते ही रीना का खून से लथपथ शव पड़ा था. इसके बाद सूचना पर डीआईजी, एसएसपी, एसपी सिटी, क्राइम ब्रांच समेत तमाम अधिकारी व कई थानेदार पहुंच गए.



Also Read: बाराबंकी शराब कांड: मुख्य आरोपी पप्पू जायसवाल मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार, अब 17 की मौत


पुलिस वालों का शक है कि ट्रांजिट हॉस्टल में रह रही महिला दारोगा रीना की हत्या उसके ही किसी जानने वाले ने की है. कमरे के हालात और बिखरा सामान संकेत दे रहे कि हत्यारे को किसी कागज की तलाश थी, इसका विरोध करने पर ही दारोगा को मार डाला. फिलहाल पुलिस का शक रीना के पति पर है. रीना की हत्या के बाद पुलिस ने घटनास्थल का चप्पा-चप्पा छाना, लेकिन पुलिस को मौके से कोई हथियार नहीं मिला. बताया जा रहा है कि जिस जगह पर महिला दारोगा का शव पड़ा था वह इतनी छोटी है कि वहां बचने या भागने की जगह नहीं थी.



आशंका जताई जा रही है कि जहां पर महिला दारोगा खड़ी रही होगी, वहां से भागने की जगह नहीं मिली होगी. इसी दौरान उनके सिर पर किसी भारी या धारदार हथियार से प्रहार किया गया. प्रहार से वह गिर गईं और दोबारा नहीं उठ सकीं. उधर, महिला दारोगा की रसोई में खाना बना मिला. कड़ाही में लौकी की सब्जी, एक कटोरी में भिंडी व पास में कटे हुए आम के पीस रखे थे, तवा भी चूल्हे पर चढ़ा हुआ है. सोमवार रात खाना खाने की तैयारी चल रही थी, तभी हत्या की गई.



Also Read: आगरा: मामूली सी कहासुनी पर थाने के अंदर सिपाही ने दारोगा के ऊपर तानी पिस्टल, Video वायरल


रीना की हत्या सोमवार रात ही कर दी गई थी. क्योंकि मौके पर मिला खून जम चुका था. हालांकि शव से कोई दुर्गंध नहीं आ रही थी. हत्यारों ने सिर के अलावा कहीं और वार नहीं किया है. रीना के हाथ में कुछ बाल भी मिले हैं, आशंका जताई जा रही है हाथापाई के दौरान रीना ने हत्यारे का सिर पकड़ा होगा. दूसरे कमरे में सामान बिखरा पड़ा था, अटैचियां खुली थीं. खास बात यह है कि जितनी भी फाइलें, डायरियां आदि थी वह सब खुली पड़ी थी. शक है कि हत्या करने आए बदमाशों को किसी खास कागज की तलाश थी. यह दिखाने के लिए कि लूट की गई है, कमरे का सामान बिखेर कर हत्यारे भाग गए.



वहीं, जानकारी मिली है कि महिला दारोगा का अपने पति से तलाक नहीं हुआ था. हालांकि दोनों के बीच सालों से कोई संबंध नहीं थे. महिला दारोगा के पति ने किसी दूसरी युवती से शादी कर ली थी. बताया जा रहा है कि विवाद के चलते दारोगा पति ने नौकरी से इस्तीफा दे दिया है. घटना का पता चलने के बाद पुलिस के आला अफसर कारणों की पड़ताल करने में जुट गए हैं, कॉल डिटेल खंगाली जा रही है.


Also Read: जुर्म की दुनिया का मोस्ट वांटेड गैंगस्टर ‘मामा’, कभी था दिल्ली में विधायक


छानबीन के दौरान घर में काफी ढूंढने पर भी महिला दारोगा का मोबाइल नहीं मिला, हत्यारे मोबाइल भी ले गए. अधिकारियों का कहना है कि हत्यारों का नंबर निश्चित ही दारोगा के मोबाइल में फीड होगा, जिस कारण वह मोबाइल ले गए. पुलिस सर्विलांस की मदद से अब हत्यारोपितों का पता लगाने में जुटी है. वहीं, जिस कोठरी में महिला दारोगा का शव पड़ा था, उसमें एक नई रस्सी भी मिली है. माना जा रहा है इसी रस्सी से पहले महिला दारोगा की गला दबाकर हत्या की गई है. इसके बाद शव को कोठरी में लाकर सिर पर धारदार चीज मारी गई है, जिससे उनके जिंदा रहने की कोई गुंजाइश न बचे.



वहां के ऑफिस के लोगों ने बताया कि रीना काफी बीमार रहती थीं. वर्तमान में उन्होंने 3 महीने की छुट्टी ले रखी थी. वह ठीक से बैठ भी नहीं पाती थीं. टॉयलेट तक में कुर्सी पड़ी थी. साथियों ने बताया कि पिछले ढाई साल में अधिकांश समय वह छुट्टी पर ही रहीं. उधर, छानबीन में पता चला कि सोमवार की रात को 2 संदिग्ध लोग बाइक से महिला दारोगा के घर के बाहर दिखाई दिए. पुलिस लाइन में सारे घर पुलिसकर्मियों के हैं, लिहाजा लोगों ने सोचा कि किसी के यहां परिचित आए होंगे. पुलिस अब इनके बारे में पता कर रही है.


Also Read: मेरठ: फेसबुक पर दोस्ती का झांसा देकर किया अपहरण, जबरन धर्म परिर्वतन और निकाह के लिए देवबंद के 15 लोगों ने की आमिर की मदद


छानबीन में जुटी पुलिस को महिला दारोगा के घर में एक बाइबिल मिली है. इसके 100 से अधिक पन्ने महिला दारोगा ने पढ़े हैं. महिला दारोगा के बेटे का नाम भी यूसुफ कृष्णन है. आशंका जताई जा रही है कि उन्होंने धर्म परिवर्तन भी कर लिया था. पड़ोसियों ने बताया कि 15 वर्षीय यूसुफ कृष्णन पढ़ाई कर रहा है. 3 दिन पहले ही उन्होंने बेटे को दिल्ली पढ़ने के लिए भेजा था.


खुलासे के लिए पुलिस ने सर्विलांस की टीम को लगा दिया है. चौपुला चौराहे व पुलिस लाइन के गेट के बाहर लगे एटीएम के कैमरों की फुटेज निकाली जा रही है. पिछले 24 घंटे के दौरान ट्रॉंजिट हॉस्टल से कितने व किसको फोन किए गए, यह मोबाइल टॉवर के जरिए पता किया जा रहा है.


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )


Related news

बहन बनाकर जीता विश्वास, फिर नशीला पदार्थ खिलाकर किया दुष्कर्म, मो. इशाक गिरफ्तार

S N Tiwari

अलीगढ़: मुस्लिम युवक पढ़ रहा था हिंदुओं की धार्मिक पुस्तक ‘भगवत गीता’, जाकिर और समीर ने घर में घुसकर बुरी तरह पीटा

BT Bureau

बागपत: न तो दाढ़ी खींची गयी और न ही जय श्री राम का नारा लगवाया गया, मौलाना ने लगाया झूठा इल्जाम, पुलिस जांच में बड़ा खुलासा

S N Tiwari