Breaking Tube
Government Politics

योगी सरकार को बड़ा झटका, HC ने 17 OBC जातियों को SC में शामिल करने पर लगाई रोक

इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) ने प्रदेश की सरकार को बड़ा झटका दिया है. कोर्ट ने OBC की 17 जातियों को SC में शामिल करने के शासनादेश पर रोक लगा दी है. इस मामले में हाईकोर्ट ने समाज कल्याण विभाग के प्रमुख सचिव मनोज कुमार सिंह व्यक्तिगत हलफनामा मांगा है.


हाईकोर्ट ने पहली नजर में राज्य सरकार के फैसले को गलत मानते हुए प्रमुख सचिव समाज कल्याण मनोज कुमार सिंह से व्यक्तिगत हलफनामा दाखिल करने के लिए कहा है. बता दें कि योगी सरकार ने बीती 24 जून को एक आदेश जारी कर 17 ओबीसी जातियों को अनुसूचित जाति में शामिल कर दिया था.


इस मामले में कोर्ट में सामाजिक कार्यकर्ता गोरख प्रसाद द्वारा दायर की गई याचिका पर सुनवाई करते हुए हाई कोर्ट के जस्टिस सुधीर अग्रवाल और जस्टिस राजीव मिश्र की डिवीजन बेंच ने कहा योगी सरकार का फैसला पूरी तरह से गलत है. राज्य सरकार ऐसे मामलों में फैसला नहीं ले सकती है क्योंकि एससी-एसटी जातियों में बदलाव का अधिकार सिर्फ देश की संसद को ही है. कोर्ट ने कहा कि राज्य की सरकार किसी भी तरह इस तरह के आदेश जारी नहीं कर सकती है और 24 जून को जो आदेश जारी किया गया है, वह पूरी तरह से गलत है.


यह था फैसला

बता दें कि 24 जून 2019 को एक शासनादेश जारी करते हुए उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने निषाद, मल्लाह और राजभर समेत 17 जातियों को अनुसूचित जाति का दर्जा देने का फैसला किया था. सरकार के समाज कल्याण विभाग द्वारा जारी किए गए आदेश में कहा गया था कि यह फैसला कोर्ट के अंतिम आदेश के अधीन होगा. आदेश जारी करते वक्त ही सरकार ने यह शर्त रख दी थी कि अगर कोर्ट का अंतिम निर्णय इन जातियों को अनुसूचित जाति में शामिल ना करने का आता है, तो फिर से इन्हें अनुसूचित जाति के दायरे से बाहर कर दिया जाएगा. जबकि अगर कोर्ट इन्हें अनुसूचित जाति में बरकरार रखने को कहता है तो उनका यह स्टेटस जारी रहेगा.


Also Read: जरूरत पड़ी तो UP में भी लागू किया जाएगा NRC: सीएम योगी


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

5 राज्यों में नए राज्यपाल: आरिफ मोहम्मद खान बने केरल के नए राज्यपाल, शाह बानो केस में राजीव गांधी के खिलाफ खोला था मोर्चा

BT Bureau

तेजप्रताप के माथे पर लगा था ‘बैंडेज’, बोले- मैं तो हूं ‘कृष्ण’ लेकिन ऐश्वर्या मेरी ‘राधा’ नहीं

Jitendra Nishad

शत्रुघ्न सिन्हा की पत्नी पूनम सिन्हा को डिंपल यादव ने दिलाई सपा की सदस्यता, लखनऊ से लड़ सकती हैं चुनाव

BT Bureau