Breaking Tube
Government

PM KISAN: किसानों के लिए खुशखबरी, 2000 रुपये की दूसरी किश्त हुई बैंक खातों में ट्रांसफर

PM KISAN pm kisan.nic.in pm kisan yojana pm kisan samman nidhi

देशभर के किसानों को और मजबूत करने के उद्देश्य से शुरू की गई प्रधानमंत्री पीएम-किसान (PM-KISAN) की दूसरी किश्त 1 अप्रैल को लाभार्थियों के खाते में आ जाएगी. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार केंद्र सरकार पीएम किसान सम्मान निधि के तहत 2000 रुपये की पहली किश्त पहले ही किसानों के बैंक खातों में ट्रांसफर कर चुकी है. केंद्र सरकार ने 9 मार्च को 2.6 करोड़ किसानों के खातों में ये रुपये ट्रांसफर किए थे. इन किसानों को अप्रैल के पहले सप्ताह में दूसरी किश्त भी मिल जाएगी.


Also Read: देश में 56 करोड़ लोग कर रहे इंटरनेट का इस्तेमाल, गांवों से आए चौंकाने वाले आकड़े


बता दें कि इस योजना में सर्वाधिक लाभार्थियों में उत्तर प्रदेश है साथ ही, जबकि मध्य प्रदेश, राजस्थान, पश्चिम बंगाल और कर्नाटक पीछे हैं. अधिक से अधिक किसानों को इस योजना का लाभ मिले, इसलिए सरकार ने फिलहाल कैश ट्रांसफर की दूसरी किश्त के लिए आधार (Aadhar) लिंकिंग को अनिवार्य नहीं किया है. ये सुविधा सिर्फ पहली और दूसरी किस्त के लिए ही है. इस बीच सभी लाभार्थियों को बैंक एकाउंट को आधार से लिंक करवाना होगा.


केंद्र सरकार ने दूसरी किस्त 1 अप्रैल को देने का वादा किया है, इसलिए समय की कमी को देखते हुए लाभार्थियो को पीएम-किसान का लाभ लेने के लिए आधार लिंकिंग से राहत दी जा रही है. पीएम-किसान का लाभ लेने के लिए आधार नंबर को कोट करना अनिवार्य है.


Also Read: नौकरी बदलने वालों के लिए खुशखबरी, PF ट्रांसफर के लिए नहीं करना होगा आवेदन


पहली किश्त के लिए 2021 करोड़ रुपये


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 24 फरवरी को गोरखपुर में पीएम-किसान योजना लॉन्च की थी. इस योजना के तहत करीब 12 करोड़ किसानों को प्रति वर्ष 6000 रुपये आय समर्थन के रूप में दिए जाने का प्रस्ताव है. लाभार्थियों को पहली किस्त के रुप में 2021 करोड़ रुपये पहले ही दिए जा चुके हैं. दूसरी किस्त 1 अप्रैल को दी जानी है. इसके लिए कैबिनेट ने निर्णय लिया है कि आधार लिंकिंग जरूरी नहीं होगी. यानी जिन किसानों का आधार लिंक नहीं है, उन्हें भी दूसरी किस्त मिल सकेगी.


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमेंफेसबुकपर ज्वॉइन करें, आप हमेंट्विटरपर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

केंद्र का SC में जवाब- आलोक वर्मा और राकेश अस्थाना बिल्लियों की तरह लड़ रहे थे, जरुरी था दखल

BT Bureau

31 मार्च से पहले 18 लाख कर्मचारियों को बढ़ा DA नकद भुगतान करने का आदेश जारी

Jitendra Nishad

आयुष्मान भारत: जानें क्या है करोड़ों परिवारों को स्वास्थ्य बीमा देने वाली PMJAY, कैसे होगा मुफ्त में इलाज

BT Bureau