Breaking Tube
Business Government

यूपी: 39 लाख से ऊपर किसानों के बैंक अकाउंट में पहुंचे 2-2 हजार रुपये! योजना का लाभ लेने के लिए करने होंगे ये काम

Third Installment of Prime Minister Kisan Samman Nidhi Scheme in Uttar Pradesh

उत्तर प्रदेश के किसानों को भी प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि स्कीम (Prime Minister Kisan Samman Nidhi Scheme) की तीसरी किस्त मिलनी शुरू हो गयी है. कृषि मंत्रालय (Ministry of Agriculture) के एक अधिकारी ने बताया कि किसानों (Formers) को दी जाने वाली तीसरी किस्त की सूची उत्तर प्रदेश से आ गयी है. साथ ही एक क्लिक पर यूपी के करीब 39,11,809 किसानों के बैंक खाते में 2-2 हजार रूपये पहुंच गए है. बता दें कि पिछले कुछ दिनों से एक मुद्दा उठ रहा था कि यूपी में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की तीसरी किस्त का एक भी पैसा नहीं पहुंचा है. केंद्रीय कृषि मंत्रालय के अधिकारियों का कहना है कि कोई भी राज्य हो. जब किसानों का ब्यौरा आएगा तो उनके अकाउंट में पैसा भेज दिया जायेगा.


Also Read: यूपी सरकार के ढाई साल पूरे CM योगी ने गिनाई UP सरकार की उपलब्धियां, बोले- हर तबके के लिए काम किया, एक भी दंगा नहीं हुआ


दरअसल, केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी (Kailash Choudhary ) का कहना है कि ‘किसान सम्मान निधि योजना का पैसा जैसे-जैसे राज्यों से लिस्ट आ रही है, उसके हिसाब से भेजा जा रहा है. सभी राज्यों के किसानों को योजना का लाभ मिलेगा. अब तक यूपी के 1,71,19,726 किसानों को तीनों किश्त का पैसा मिल चुका है, यह देश में सबसे ज्यादा है. यूपी में तीसरी किश्त का पैसा न पहुंचने को इसलिए मुद्दा बनाया जा रहा था क्योंकि यह भाजपा शासित है’. यूपी से ही 24 फरवरी को पीएम नरेंद्र मोदी ने इस योजना की शुरुआत की थी.


Also Read: यूपी: जब्त हुई पॉलिथीन से अब बनाई जाएंगी सड़कें, जानिए फायदे और मजबूती के बारे में, यहां बन चुकी है पहली रोड


अगर आपको भी इस योजना की तीसरी किस्त नहीं मिली है तो अपने क्षेत्र के कृषि अधिकारी से बात करें. लेखपाल से पूछें, वहां से भी सुनवाई न हो तो केंद्रीय कृषि मंत्रालय के किसान हेल्प डेस्क (PM-KISAN Help Desk) को ई-मेल Email (pmkisan-ict@gov.in) करें. यदि फिर भी समाधान नहीं हो रहा है तो इस सेल के नंबर 011-23381092 (Direct HelpLine) पर फोन करके अपनी समस्या रखें. उम्मीद है कि कृषि मंत्रालय के इन नंबरों पर जरूर सुनवाई होगी.


Also Read: विदेश मंत्री एस जयशंकर का बड़ा बयान, PoK भारत का हिस्सा, जल्द अधिकार भी होगा


बता दें योजना के पहले चरण की अंतिम किश्त देने में इसलिए देरी हो रही है, क्योंकि इसमें किसानों का वेरीफिकेशन हो रहा है. जबकि पहली और दूसरी किश्त लोकसभा चुनाव के चक्कर में आनन-फानन में भेजी गई थी. यूपी के तो 34 लाख लोगों तक अंतिम किश्त पहुंच गई है लेकिन देश के 14 राज्यों में एक भी किसान को पैसा नहीं मिला. योजना के तहत हर साल सभी किसानों 6-6 हजार रुपये मिलेंगे.


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

यूपी: Fake Calls से परेशान 108 एम्बुलेंस सेवा, किसी की नहीं हो रही शादी तो किसी के पति है शराब के आदी…

S N Tiwari

Paytm रक्षाबंधन सेल: राखी, मिठाइयां, चॉकलेट और गिफ्ट पर 50% से अधिक छूट, कैशबैक अलग

Ambuj

और भी ज्यादा कड़े हुए ट्रैफिक नियम, बिना इंश्योरेंस वाली गाड़ी चलाई तो सीधे RTO से आ जाएगा नोटिस, हो सकती है जेल

S N Tiwari