Breaking Tube
Government

योगी मंत्रिमंडल के विस्तार के बाद अब मंत्रियों के बीच हुआ काम का बंटवारा, देखें पूरी लिस्ट

big decision of Yogi Government CM Yogi Adityanath will end the Coterminous arrangement in UP

उत्तर प्रदेश की योगी कैबिनेट का विस्तार होने के बाद गुरुवार को मंत्रियों को उनका विभाग बांट (Yogi Cabinet Portfolio) दिया गया. गृह, आवास एवं शहरी नियोजन मंत्रालय समेत सीएम योगी ने अपने पास कुल 37 विभाग रखे हैं. वहीं उपमुख्यमंत्री कैशव प्रसाद मौर्य के पास लोक निर्माण, मनोरंजन कर विभाग है. कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ लेने वाले सुरेश राणा के पास गन्ना विकास मंत्रालय रहेगा, जबकि भूपेंद्र चौधरी को पंचायती राज मंत्रालय मिला है. यहां देखें नए मंत्रिमंडल के विभागों की सूची..


केशव प्रसाद मौर्या- लोक निर्माण, खाद्य प्रसंस्करण,  मनोरंजन कर, सार्वजनिक उद्यम


दिनेश शर्मा – माध्यमिक शिक्षा उच्च शिक्षा विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी इलेक्ट्रॉनिक्स सूचना प्रौद्योगिकी


सूर्य प्रताप शाही – कृषि, कृषि शिक्षा, कृषि अनुसंधान


सुरेश खन्ना – वित्त, संसदीय कार्य, चिकित्सा शिक्षा विभाग


जय प्रताप सिंह – चिकित्सा एवं स्वास्थ्य परिवार कल्याण तथा मातृ एवं शिशु कल्याण


बृजेश पाठक – विधायी, न्याय, ग्रामीण अभियंत्रण सेवा


लक्ष्मी नारायण चौधरी – पशुधन, दुग्ध विकास


चेतन चौहान –  सैनिक कल्याण होमगार्ड प्रांतीय रक्षक दल नागरिक सुरक्षा


राजेंद्र प्रताप सिंह उर्फ मोती सिंह – ग्राम विकास समग्र ग्राम विकास


सिद्धार्थ नाथ सिंह – खादी एवं ग्रामोद्योग रेशम उद्योग वस्त्र उद्योग सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्यम निर्यात प्रोत्साहन, एनआरआई निवेश प्रोत्साहन


आशुतोष टंडन – नगर विकास शहरी समग्र विकास नगरीय रोजगार एवं गरीबी उन्मूलन


नंद गोपाल नंदी – नागरिक उड्डयन, राजनीतिक पेंशन, अल्पसंख्यक कल्याण, मुस्लिम वक्फ, हज


महेंद्र सिंह – जल शक्ति विभाग


सुरेश राणा – गन्ना विकास, चीनी मील


भूपेंद्र चौधरी-  पंचायती राज


अनिल राजभर – पिछड़ा वर्ग कल्याण, दिव्यांगजन सशक्तिकरण


रामनरेश अग्निहोत्री – आबकारी,  मद्य निषेध


कमला रानी वरुण – प्राविधिक शिक्षा


——————————————————————————–


स्वतंत्र प्रभार मंत्री


उपेंद्र तिवारी – स्वतंत्र प्रभार खेल विभाग


धर्म सिंह सैनी – आयुष के साथ CM के साथ अटैच


स्वाति सिंह – महिला कल्याण एवं बाल विकास


नीलकंठ तिवारी – पर्यटन एवं धर्मार्थ


कपिल देव अग्रवाल – व्यवसायिक शिक्षा


सतीश द्विवेदी – बेसिक शिक्षा


अशोक कटारिया परिवहन विभाग – स्वतंत्र प्रभार


श्रीराम चौहान – उद्यान एवं मंडी परिषद


रविंद्र जायसवाल – स्टाम्प विभाग


———————————————————————————————–


ये हैं राज्यमंत्री


गुलाब देवी – माध्यमिक शिक्षा


अनिल शर्मा – वन


धुन्नी सिंह- खाद्य एवं रसद


मन्नू लाल कोरी – श्रम राज्यमंत्री


संदीप सिंह – चिकित्सा शिक्षा एवं वित्त


सुरेश पासी – गन्ना विकास राज्यमंत्री


बलदेव ओलख – जलशक्ति राज्यमंत्री


गिरीश चंद्र यादव – आवास राज्यमंत्री


अतुल गर्ग – चिकित्सा एवं स्वास्थ्य राज्यमंत्री


महेश गुप्ता – नगर विकास राज्यमंत्री


आनंद स्वरूप शुक्ला – संसदीय कार्य राज्यमंत्री


विजय कश्यप – राजस्व राज्यमंत्री


गिरिराज धर्मेश – समाज कल्याण राज्यमंत्री


लाखन राजपूत – कृषि राज्यमंत्री


नीलिमा कठियार – उच्च शिक्षा राज्यमंत्री


चौधरी उदयभान – लघु उद्योग राज्यमंत्री


चंद्रिका उपाध्याय – PWD राज्यमंत्री


रमाशंकर पटेल – ऊर्जा राज्यमंत्री


अजीत सिंह पाल – इलेक्ट्रॉनिक राज्यमंत्री


मंत्रिमंडल से हटाए गए ओमप्रकाश राजभर के विभाग अनिल राजभर को दिए गए हैं.


कैबिनेट मंत्री रामनरेश अग्निहोत्री – आबकारी एवं मद्य निषेध विभाग


कैबिनेट मंत्री कमला रानी वरुण – प्राविधिक विभाग


पुराने कैबिनेट मंत्रियों के विभागों में फेरबदल:


सिद्धार्थ नाथ सिंह – खादी एवं ग्रामोद्योग, एमएसएमई विभाग (चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग का प्रभार छीन लिया गया)


नंदगोपाल गुप्ता ‘नंदी’ – नागरिक उड्डयन, राजनैतिक पेंशन, अल्पसंख्यक कल्याण, मुस्लिम वक्फ विभाग (उनसे स्टाम्प एवं पंजीयन विभाग छीन लिया गया)


लक्ष्मीनारायण चौधरी – पशुधन, मत्स्य एवं दुग्ध विकास विभाग (लक्ष्मीनारायण चौधरी से हटाए गए अल्पसंख्यक कल्याण, मुस्लिम वक्फ, संस्कृति एवं धर्मार्थ कार्य विभाग)


जयप्रताप सिंह – चिकित्सा एवं स्वास्थ्य, परिवार कल्याण एवं मातृ-शिशु कल्याण विभाग (जयप्रताप सिंह से वापस लिया गया आबकारी विभाग)


सुरेश खन्ना – संसदीय कार्य विभाग के साथ वित्त विभाग एवं चिकित्सा शिक्षा विभाग की भी जिम्मेदारी (सुरेश खन्ना से वापस लिया गया नगर विकास विभाग)


ब्रजेश पाठक – विधि एवं न्याय के साथ ग्रामीण अभियंत्रण सेवा विभाग की भी जिम्मेदारी


राजेंद्र प्रताप सिंह – ग्राम्य विकास एवं समग्र ग्राम विकास विभाग (राजेंद्र प्रताप सिंह से वापस लिया गया ग्रामीण अभियंत्रण सेवा विभाग)


चेतन चौहान – सैनिक कल्याण, होमगार्ड्स, प्रांतीय रक्षक दल विभाग (चेतन चौहान से वापस लिया गया खेल विभाग)


आशुतोष टंडन – नगर विकास, शहरी समग्र विकास विभाग (आशुतोष टंडन से वापस लिया गया चिकित्सा शिक्षा एवं प्राविधिक शिक्षा विभाग)


6 नए राज्यमंत्रियों के स्वतंत्र प्रभार के विभाग: 


नीलकंठ तिवारी – पर्यटन, संस्कृति एवं धर्मार्थ कार्य विभाग


कपिल देव अग्रवाल – व्यवसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग


सतीश द्विवेदी – बेसिक शिक्षा विभाग


अशोक कटारिया – परिवहन विभाग


श्रीराम चौहान – उद्यान, कृषि निर्यात एवं कृषि विपणन विभाग


रवींद्र जायसवाल – स्टाम्प एवं पंजीयन विभाग


उपेन्द्र तिवारी को खेल एवं कल्याण विभाग की जिम्मेदारी दी गई है.


Also Read: यूपी: प्राइमरी-जूनियर स्कूलों में सेल्फी से देनी होगी हाजिरी, भड़के शिक्षक बोले- अविश्वास जताकर हमारा अपमान किया जा रहा, विरोध करेंगे


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

7th pay commission: मोदी सरकार के इस ऐलान के बाद लौटेंगी कर्मचारियों की खुशियां, बढ़ा एलटीसी का दायरा

admin

आडवाणी ने की प्रणब मुखर्जी की तारीफ, कहा उनका RSS मुख्यालय जाना इतिहास की महत्वपूर्ण घटना

admin

अतीत की सज़ा भुगतता गांव, कभी होती थी अफ़ीम की खेती

Satya Prakash