Breaking Tube
Crime News

हमीरपुर: भाई ने सिपाही को बहन संग आपत्तिजनक हालत में पकड़ा, आक्रोशित युवक ने साथियों संग चौकी पर कर दिया हमला, 1 पुलिसकर्मी घायल

hamirpur

उत्तर प्रदेश के हमीरपुर (hamirpur) जिले में सुमेरपुर थाना क्षेत्र के एक गांव में किशोरी से सिपाही की मेल-मिलाप का विरोध उसके चचेरे भाई को भारी पड़ गया। आरोप है कि सिपाही उसे घर से पकड़कर थाने ले गया और अन्य पुलिसकर्मियों के साथ मिलकर उसे मारापीटा। इसके बाद उसे थाने में बंद रखा। लेकिन मामला तूल पकड़ने पर पुलिस ने युवक को थाने से जमानत पर छोड़ दिया। जिसके बाद बुधवार की देर शाम नाराज युवक ने अपने साथियों संग पुलिस चौकी पर हमला कर दिया।


चौकी छोड़ जान बचाकर भागे पुलिसकर्मी

इस दौरान सिपाही के साथ गाली-गलौच की गई और पुलिस की बाइक तोड़ दी गई। मामले की गंभीरता को देखते हुए चौकी में मौजूद सिपाही भाग निकले। इस बीच हमले में एक सिपाही के घायल होने की सूचना है। उधर, जानकारी मिलते ही पुलिस फोर्स गांव के लिए रवाना हो गई। सूत्रों ने बताया है कि ,ससुमेरपुर थाने के एक पुलिस चौकी में तैनात सिपाही का एक किशोरी से मेल मिलाप चल रहा है।


Also Read: खुलासा: UP Police के सिपाही को DM ने घोषित किया ‘भूमाफिया’, 22 एकड़ जमीन जब्त करने का आदेश


ग्रामीणों ने कई बार सिपाही को आपत्तिजनक स्थित में देखा, लेकिन पुलिस के खौफ से किसी ने मुंह नहीं खोला। इधर किशोरी के चचेरे भाई ने इस मामले में सिपाही से विरोध किया तो उसे नागवार गुजरा। सिपाही उसे घर से पकड़कर ले गया और मारपीट के झूठे मुकदमे में फंसाने की धमकी दी। मगर दबाव पड़ने पर पुलिस ने उसे छोड़ दिया। गांव लौटे पीड़ित ने कहा उसकी चचेरी बहन को सिपाही पिछले एक साल से परेशान कर रहा है।


Also Read: UP: दारोगा दुर्ग विजय सिंह के शव से लिपट कर रोई बेटी, आंसू पोंछकर पूछा ऐसा सवाल कि झुक गया एसपी का सिर


उसने बताया कि सिपाही ने एक मोबाइल दिया है और उससे बात करता है। आरोप है कि इसी बात का विरोध करने पर आरोपी सिपाही उसे थाने उठा ले गया और उसके साथ मारपीट की। अपर पुलिस अधीक्षक एसके सिंह ने बताया चौकी में तैनात सिपाही का किसी बात को लेकर विरोध था, जिसके बाद सिपाही को वहां से हटाकर इंगोहटा चौकी भेजा गया है। सिपाही पर लगे आरोपों की जांच कराई जा रही है।


Also Read : इटावा: जेल में खुलेआम खेला जा रहा है जुआ, जेल अधीक्षक कह रहे ‘वीडियो न चलाओ अकेले में मिलो, समझौता करते हैं’


वहीं, सीओ दीपराज चौधरी ने पीड़िता के बयान दर्ज कराएं है। पीड़िता ने कहा कि सिपाही की हरकत उसके भाई ने देख ली थी और विरोध किया था। इसी कारण उसके भाई को सिपाही पकड़ ले गया था। सीओ ने कहा कि मामले में कार्रवाई की जाएगी। साथ ही चौकी में तोड़फोड़ को लेकर करीब 20 लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई है।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

बलिया: छेड़खानी करना युवक को पड़ा भारी, लड़कियों ने युवक को चप्पलों से पीटा, Video वायरल

BT Bureau

इस्लामिक बैंक फ्रॉड: 2000 करोड़ के घोटाले का आरोपी मंसूर खान गिरफ्तार, पूछताछ जारी

BT Bureau

मऊ: मदरसे में नाबालिग छात्रा से रेप, 5 युवकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज

BT Bureau