Breaking Tube
Police & Forces

कानपुर: औचक निरीक्षण करने पहुंचे एडीजी, बोले- नाकारा है थाना प्रभारी, सस्पेंड होना चाहिए

kanpur police- ADG

उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले के बर्रा थाने में मौजूद पुलिसकर्मियों के बीच उस वक़्त अफरा-तफरी मच गयी, जब निरीक्षण करने के लिए एडीजी खुद ही थाने पहुंच गए. बर्रा थाने में निरीक्षण के दौरान एडीजी ने कई प्रकार की खामियों को देखा. थाने के मालखाने पर किसी की नियुक्ती ना होने को लेकर नाराजगी जताई. इसके बाद चुनावी रजिस्टर की जांच की गई, जिसे देखकर एडीजी का पारा हाई हो गया. नाराज हुए एडीजी ने खुद एसएसपी को फोन कर कहा कि ‘थाना प्रभारी नाकाम है दोनों मोहर्रिर सस्पेंड करने लायक है. थाने में तमाम प्रकार की खामियों को पूरा किया जाना चाहिए. साथ ही नाकाम पुलिसकर्मियों पर सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए’.


Also Read: गोरखपुर: अराजक तत्वों ने मंदिर में स्थापित देवी-देवताओं की दर्जनों प्रतिमाएं खंडित कर सड़क पर फेंकीं, तनाव


यहां जानें पूरा मामला

कानपुर में एडीजी प्रेम प्रकाश अचानक बर्रा थाने के औचक निरीक्षण करने जा पहुंचे. एडीजी की गाड़ी देखते ही थाने पर मौजूद पुलिसकर्मियों में हड़कंप मच गया. निरीक्षण के दौरान एडीजी प्रेम प्रकाश ने सबसे पहले थाने के मुशीं से पूछताछ की. इसके बाद मालखाने की ओर बढ़े, जहां थाने के मालखाने पर किसी इंचार्ज की नियुक्ति ना होने पर नाराजगी जताई. मौके पर मौजूद इंस्पेक्टर अतुल कुमार श्रीवास्तव ने एडीजी को बताया कि एसीएम प्रथम, सीओ और एसपी की कमेटी गठन कर हेड मोहर्रिर कमलेश प्रसाद यादव को मालखाना इंचार्ज बनाया जाएगा.


Also Read: मुजफ्फरनगर: 17 वर्षीय दलित बच्ची के साथ गैंगरेप, मुस्लिम समुदाय के 5 युवक गिरफ्तार


सभी को सिस्टम चलना आना चाहिए: एडीजी

निरीक्षण के दौरान एडीजी ने थाने में क्राइम एंड क्रिमिनल ट्रेकिंग नेटवर्क के बारे में पूछताछ की. जिस पर थाने पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने कहा की इसे एसआई अभिलाष कुमार मिश्रा ही संभालते है. एडीजी ने इस पर सभी पुलिसकर्मियों को निर्देश दिया कि सिस्टम सभी को चलाना आना जरूरी है, साथ ही केस डायरी के पर्चो को ऑनलाइन काटना शुरु किया जाए. एडीजी ने निर्देशों के बाद इंस्पेक्टर कक्ष में चुनाव, ड्यूटी, वारंटी, एचएस समेत कई रजिस्टरों की जांच भी की जिसमें एडीजी ने खामियां पाई. रजिस्टर में इंडेक्स भी नहीं था और साथ ही चुनाव मास्टर रजिस्टर में चुनाव आयोग के निर्देशों की कॉपी भी मौजूद नहीं थी.


Also Read: हरदोई: शराब माफिया ने दारोगा के सिर पर मारी लोहे की रॉड, दो सिपाही घायल


पहरेदार की ड्यूटी भी रामभरोसे

पहरे में तैनात सिपाही राजमणि को मौके पर बुलाकर उससे पूछताछ करते हुए एडीजी प्रेम प्रकाश ने पूछा- ‘कितने बजे से ड्यूटी पर हो. तुम्हारे बाद कौन पहरा देगा. रजिस्टर पर ड्यूटी चढ़ी है या नहीं’. इस पर सिपाही राजमणि किसी प्रकार का जवाब एडीजी को नहीं दे पाया. एडीजी ने इंस्पेक्टर से दोनों मोहर्रिर का ओआर लगाने को कहा गया है. जिसके बाद वह वहां से चले गए.


Also Read: मथुरा: यमुना एक्सप्रेस वे से सटे जंगलों में पेड़ से लटका मिला पुलिस कांस्टेबल का शव, मचा हड़कंप


चुनाव की सुरक्षा को लेकर एसएसपी को किया फोन

निरीक्षण के दौरान आगामी चुनावों के आगाज के बाद थाने में कितने असलहे जमा कराए गए है. साथ ही पाबंद अपराधियों के बारे में भी जानकारी ली गई. जिसमें इंस्पेक्टर से किसी प्रकार का जवाब ना मिलने पर एडीजी का पारा ही हाई हो गया. जिससे नाराज एडीजी प्रेम प्रकाश ने थाने से ही एसएसपी को फोन कर दिया. फोन पर एडीजी एसएसपी से बोले- ‘बर्रा थाने के दोनों मोहर्रिर सस्पेंड होने लायक हैं और एसएचओ नकारा हैं. थाने के एसपी और सीओ को टाइट करने की जरुरत है’. इस दौरान एडीजी ने इंस्पेक्टर को चेतावनी दी कि देर रात ही थाने की सभी खामियों को पूरा कर रजिस्टर को दुरुस्त कर लिया जाए. वह फिर से थाने आकर पूरे स्टॉफ के साथ मीटिंग करेंगे. इस दौरान किसी प्रकार की खामी पाई गई तो सख्त कार्रवाई की जाएगी.


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )


Related news

देश के सभी राष्ट्रीय राजमार्गों पर बने पुल और रेल ब्रिजों पर बढ़ाई गई सुरक्षा

Jitendra Nishad

मायावती के मंच पर आते ही बेकाबू हुई समर्थकों की भीड़, पुलिस कर्मियों को धक्का देकर तोड़े बैरियर

S N Tiwari

सहारनपुर: इफ्तारी के बाद लाउडस्पीकर लगाकर कोतवाली में हुई अजान, Video वायरल

S N Tiwari