Breaking Tube
Police & Forces

डीसीपी विक्रम कपूर ने अपने मुंह में घुसेड़ी रिवॉल्वर और चला दी गोली, मचा हड़कम्प

एक बार फिर एक पुलिस अफसर ने खुद को गोली मार कर आत्महत्या कर ली. दरअसल, फरीदाबाद के एनआईटी में बुधवार तड़के उस वक्त हड़कंप मच गया जब डिप्टी कमिश्नर ऑफ पुलिस(डीसीपी) विक्रम कपूर (DCP vikram Kapoor) ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली. हालांकि अभी तक उनके आत्महत्या करने की वजह सामने नहीं आ पाई है. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम और फरेंसिक जांच के लिए भेज दिया है.


तड़के खुद को मारी गोली

जानकारी के मुताबिक, फरीदाबाद के डीसीपी विक्रम कपूर (DCP vikram Kapoor) ने खुद को बुधवार तड़के अपनी सर्विस पिस्टल से गोली मार कर आत्महत्या कर ली. डीसीपी ने अपनी सर्विस रिवाल्वर से खुद के मुंह में गोली मार ली, जो उनके सिर के ऊपर से बाहर निकल गयी. जिस समय उन्होंने आत्महत्या की तब उनकी पत्नी बाथरूम में थी. जैसे ही वो बाहर आयीं तो उन्होंने पति को खून से लथपथ पाया. फ़ौरन ही बेटे को जगाने के बाद पुलिस को खबर की.


Also Read: यूपी: ADG प्रशांत कुमार का अपराध पर शिकंजा, दहशत में आये इनामी शातिर अपराधी, खुद थाने जाकर बोल रहे- ‘मुझे कर लीजिये गिरफ्तार’


मौके से पहुंचे पुलिस और फोरेंसिक की टीम घटना की जांच में लगी हुईं हैं. फ़िलहाल अभी तक आत्महत्या की वजह का पता नहीं लग पाया है. न ही उनके पास से कोई सुसाइड नोट मिला है.


प्रमोशन पाकर बने थे आईपीएस

बता दें डीसीपी विक्रम मूल रूप से अम्बाला के रहने वाले हैं. उन्होंने अपनी नौकरी की शुरुआत हरियाणा पुलिस में इंस्पेक्टर के पद से की थी. कुछ साल पहले ही प्रमोशन पाकर वो आईपीएस बने थे. पिछले दो सालों से डीसीपी विक्रम (DCP vikram Kapoor) फरीदाबाद में पोस्टेड थे.


Also Read : योगी राज में ताबड़तोड़ एनकाउंटर, अकेले मेरठ जोन में 1520 मुठभेड़, 2948 गिरफ्तार, 53 कुख्यात अपराधी हुए ढेर


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

बलिया: BJP कार्यकर्ता ने इंस्पेक्टर को दी मां-बहन की गालियां, बोला- ये बैरिया है, सारी ‘यादवगिरी’ @%$# में घुसेड़ देंगे, Audio वायरल

BT Bureau

Video: घूस लेते कैमरे में कैद हुआ यूपी पुलिस का हेड कांस्टेबल, निलंबित

BT Bureau

पुलिस के हत्थे चढ़ा बाहुबली मुख्तार अंसारी गिरोह का शार्प शूटर, 50 हजार का था इनामी

BT Bureau