Breaking Tube
Police & Forces

स्वामी चिन्मयानंद को गिरफ्तार करने वाली SIT का IG नवीन अरोरा ने किया था गठन, तमाम मुश्किलों के बावजूद टीम को मिली सफलता

कई दिनों की जद्दोजहज के बाद आखिरकार छात्रा के साथ यौन शोषण के आरोपी स्वामी चिन्मयानंद (Swami Chinmayananda) को आज सुबह उन्हींके मुमुक्षु आश्रम से गिरफ्तार कर लिया. काफी विरोध झेलने और तमाम आरोपों के बाद आईजी नवीन अरोरा द्वारा गठित SIT की टीम के हाथ ये सफलता लगी है. इसके अलावा भी तीन अन्य लोगों को टीम ने गिरफ्तार किया है. इसके साथ ही आज आईजी ने प्रेस कांफ्रेंस करके इस मामले से जुड़े कई राज भी खोले हैं.


तमाम आरोपों के बाद मिली सफलता

जानकारी के मुताबिक, रेप और यौन शोषण के आरोप में पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री चिन्मयानंद (Swami Chinmayananda) को आज सुबह मुमुक्षु आश्रम से गिरफ्तार कर लिया. उन्हें SIT प्रमुख नवीन अरोरा द्वारा गठित टीम ने गिरफ्तार किया. गिरफ्तारी के वक्त स्वामी के अनुयायियों ने काफी विरोध भी किया लेकिन SIT की टीम पूरी तैयारी के साथ वहां गयी थी. जिसके चलते उन्हें ज्यादा दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ा.


इस जांच के दौरान SIT पर कई आरोप भी लगे. जिसमें एसआईटी चीफ आईजी नवीन अरोड़ा ने कहा था कि एसआईटी बहुत ही मेहनत के साथ मामलों की जांच कर रही है. इसी के साथ उन्होंने यह भी कहा था कि अब तक यह सबसे तेज जांच है, जो अपने आप में इतिहास है. आईजी का मानना है कि किसी की अपेक्षा अनुसार या लोगों के सवाल खड़े करने से एसआईटी की जांच का रुख नहीं बदलता है.


Also Read : छात्रा से शोषण के आरोप मे पूर्व केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री स्वामी चिन्मयानंद गिरफ़्तार


आईजी ने की प्रेस कांफ्रेंस

वहीं स्वामी चिन्मयानंद (Swami Chinmayananda) की गिरफ्तारी के बाद एसआईटी प्रमुख आईजी नवीन अरोड़ा ने प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि रेप और यौन शोषण के आरोप में गिरफ्तार हुए पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री चिन्मयानंद से 5 करोड़ की रंगदारी मामले में पीड़ित छात्रा का भी हाथ होना सामने आया है. उन्होंने कहा कि रंगदारी के मामले में पीड़ित छात्रा की संलिप्तता पाई गई है. साक्ष्यों के मिलने पर कार्रवाई की जाएगी.


चिन्मयानंद के साथ पीड़ित छात्रा के तीन साथी भी गिरफ्तार

मामले में आरोपी चिन्मयानंद ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है. एसआईटी की पूछताछ में चिन्मयानंद ने माना कि उससे गलती हो गई. उसी ने मालिश के लिए छात्रा को अपने कमरे में बुलाया था. इस दौरान चिन्मयानंद ने कहा कि वो अपने किए पर शर्मिंदा है और उससे बड़ी भूल हुई है. इस मामले जांच कर रही एसआईटी ने पीड़ित छात्रा के दो चचेरे भाइयों और उसके एक दोस्त को भी गिरफ्तार किया है. इन तीनों पर चिन्मयानंद को वीडियो वायरल करने की धमकी देकर पांच करोड़ रुपये मांगने का आरोप है.


Also Read: यूपी: PM मोदी पर महिला डॉक्टर ने की अभद्र टिप्पणी, मरीज से बोली- फ्री में दवा चाहिए तो मोदी से ले लो, इधर-उधर घूमते रहते है…


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

यूपी: तनाव के चलते पुलिसकर्मियों के सुसाइड से मचा कोहराम, साप्ताहिक अवकाश की हुई शुरुआत, बाकी जिलों में इतनी तारीख से मिलेगा

BT Bureau

बुलंदशहर हिंसा: जिला पुलिस ने कर दी बड़ी चूक, निर्दोष को पोस्टर में बनाया दोषी तो पीड़ित ने ADG से की शिकायत

Jitendra Nishad

लखनऊ: घर से बिना बताये निकले 2 मासूम भटके रास्ता, सिपाही ने भूखे-प्यासे बच्चों को खाना खिलाया फिर परिवार से मिलाया

S N Tiwari