Breaking Tube
Police & Forces

यूपी: सिपाही ने खुद को मारी गोली, सुसाइड नोट में लिखा- हाथ जोड़कर निवेदन है कि…

varanasi sipahi

उत्तर प्रदेश के वाराणसी जिले में सोमवार को पीएसी के सिपाही ने खुद को गोली मार ली. पुलिस ने घटनास्थल से सुसाइड नोट भी बरामद किया है. उसने अपने सुसाइड नोट में अपने मरने की वजह लिखने के साथ ही सबसे हाथ जोड़ कर निवेदन किया है. उसे बीएचयू ट्रॉमा सेंटर ले जाया गया जहां उसकी हालत खतरे से बताई गई है. वाराणसी में चेतगंज स्थित सिटी कंट्रोल रूम पर रिजर्व ड्यूटी के लिए आए शराब के नशे में धुत 36 वर्षीय पीएसी के सिपाही रणजीत सिंह ने सोमवार की दोपहर अपनी इंसास राइफल से खुद को गोली मार ली. आननफानन में उसे बीएचयू ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया, जहां उसकी हालत स्थिर बताई गई है.


Also Read: सवर्ण जाति के लोगों ने किया दलित पुलिस कांस्टेबल की बारात पर धारदार हथियारों से हमला, जातिसूचक शब्दों के साथ दी गालियां


सुसाइड नोट में सिपाही ने लिखा

मौके से मिले सुसाइड नोट में रणजीत सिंह ने लिखा था कि वो अपने दारू पीने की लत की वजह से मरने जा रहा है. उसके मरने में किसी भी दोस्त, कर्मचारी, अधिकारी, पत्नी और परिवार की कोई भूमिका नहीं है. हाथ जोड़ कर निवेदन है कि इसके लिए किसी को परेशान न किया जाए. चंदौली जिले के धीना थाना क्षेत्र के करजरा गांव का मूल निवासी रणजीत सिंह पीएसी में 2003 में सिपाही के तौर पर भर्ती हुआ था. इन दिनों वो रामनगर स्थित 36वीं वाहिनी पीएसी की ई कंपनी में तैनात था. रणजीत का परिवार लंका थाना क्षेत्र के सुसुवाही क्षेत्र में रहता है.


Also Read: इलाहाबाद विश्वविद्यालय में अराजकता न हो इसलिए अखिलेश को रोका गया: सीएम योगी


मोबाइल पर बात करते हुए फायर एंबुलेंस में मारी गोली

रणजीत सिंह सोमवार को सिटी कंट्रोल रूम पर रिजर्व ड्यूटी के लिए आया था. चेतगंज स्थित सिटी कंट्रोल रूम के समीप एसपी सिटी और सीओ चेतगंज के कार्यालय के अलावा फायर स्टेशन है. प्रत्यक्षदर्शी पुलिसकर्मियों के अनुसार रणजीत मोबाइल पर बात करते हुए फायर एंबुलेंस में जा बैठा. इसी बीच गोली चलने की आवाज सुनाई दी तो सभी को लगा कि किसी ने पटाखा फोड़ा होगा. इसके थोड़ी ही देर बाद खून से लथपथ रणजीत एंबुलेंस से नीचे उतर कर आया और बताया कि उसने खुद को गोली मार ली है. बीएचयू ट्रॉमा सेंटर के डॉक्टरों के अनुसार रणजीत के सीने पर बाएं तरफ गोली चमड़ी को छूते हुए निकल गई है. इस संबंध में एसपी सिटी दिनेश कुमार सिंह ने बताया कि बीएचयू ट्रॉमा सेंटर के डॉक्टरों के अनुसार सिपाही की हालत खतरे से बाहर है.


Also Read: Video: जब बच्चों से पीएम मोदी ने पूछा खाना लेट मिला ना? बगल में बैठी बच्ची के जवाब पर हंस पड़े मोदी


अपने साथी को देखकर बोला- ए बाबा सुनीं, तनिके सा निशाना चूक गयल

गोली लगने से घायल सिपाही रणजीत सिंह ने बीएचयू ट्रॉमा सेंटर में सीओ भेलूपुर सत्येंद्र तिवारी को देखते ही कह- ‘ए बाबा सुनीं, तनिके सा निशाना चूक गयल… लीवर काम न करत रहल त का करीं’. इस पर सीओ भेलूपुर ने सिपाही को समझा-बुझाकर शांत कराया और कहा कि कोई वीरतापूर्ण काम नहीं किया है. पत्नी, बच्चों, परिवार और समाज के बारे में गंभीरता से सोचोगे तो आगे ऐसी गलती दोबारा नहीं करोगे. इस दौरान नशे में धुत रणजीत काफी देर तक बड़बड़ाता रहा. सिपाही रणजीत सिंह का परिवार लंका थाना के सुसुवाही में किराये के मकान में रहता है. पुलिस की सूचना पर रणजीत की पत्नी रीना अपने बेटे और बेटी के साथ बीएचयू ट्रॉमा सेंटर पहुंची. परिजनों ने बताया कि घर में रणजीत का व्यवहार सामान्य था और वो किसी बात को लेकर परेशान रहता है, इसकी भनक तक किसी को नहीं थी. खुद को गोली मारने की घटना के बारे में परिजनों का कहना है कि लघुशंका करते समय अचानक राइफल गिरने से गोली चली और रणजीत घायल हो गया.


Also Read: लखनऊ एयरपोर्ट पर अखिलेश यादव से एडीएम ने की धक्का-मुक्की, विधान परिषद में मचा हंगामा


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )


Related news

यूपी 100 के सिपाही की दिलेरी, नहीं मिली जीप तो डंडा उठाकर बदमाशों से भिड़ने पैदल ही दौड़ पड़ा

Jitendra Nishad

यूपी: SSP को पत्र लिखकर सिपाही ने की थानाध्यक्ष की शिकायत, बोला- दलित हूं, इसलिए कर रहे प्रताड़ित, जानवरों की गाड़ी पास कराकर करवाते हैं धन उगाही

Jitendra Nishad

बदायूं: महिला सिपाहियों पर दारोगा बना रहा शारीरिक संबंध बनाने का दबाव, रूम पर जाकर की जा रही मारपीट, Video वायरल

BT Bureau