Breaking Tube
Police & Forces

मथुरा: सुसाइड करने के लिए ट्रेन के आगे खड़ी युवती की महिला दारोगा ने बचाई जान, आर्थिक तंगी से जूझते परिवार की मदद भी की

lady sub inspector saved life a women in mathura

उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले से पुलिस का मानवीय कार्य सामने आया है. जहां आर्थिक तंगी से परेशान एक युवती रेलवे ट्रैक पर आत्महत्या करने जा रही थी. जिसे वहां मौजूद एक महिला दारोगा ने बचाया. जिसके बाद सभी लोग उस महिला दारोगा के हिम्मत और बहादुरी को सलाम कर रहे है. इन बहादुर महिला सिपाही का नाम रूचि त्यागी है.


Also Read: मुजफ्फरनगर: बदमाश को अकेले पकड़ने पहुंचे हेड कांस्टेबल पर हमला, पहले चलाई गोली फिर तमंचे की बट से किया लहूलुहान


दरअसल, महिला दारोगा रुची त्यागी अपने पुलिस बल के साथ एक क्षेत्र में थीं. अचानक उनकी नजर एक युवती पर पड़ी जो आत्महत्या करने के लिए आंखों पर पट्टी बांधकर रेलवे ट्रैक पर खड़ी थी. ये नजारा देख महिला दारोगा ने बिना समय गवाएं दौड़कर उस युवती के पास पहुंची और उसे वहां से खींच लिया और थाने लेकर आ गईं.


Also Read: पहले गाड़ी से टक्कर मारी, चाकुओ से गोदा और फिर महिला पुलिसकर्मी सौम्या को जला दिया जिंदा, एजाज गिरफ्तार


थाने पर पूछताछ करने पर युवती ने बताया कि ‘मेरे पति शैलेन्द्र गार्ड की नौकरी करते थे. कुछ दिन पहले ड्यूटी टाइम में नींद आने के कारण उनकी नौकरी छूट गई. अब घर में आये दिन क्लेश रहता है. बेरोजगारी के चलते घर के खर्चे और बच्चों की फीस जमा नही हो पाई है’. युवती की दर्दभरी कहानी सुनने के बाद महिला दारोगा भावुक हो गईं और उसकी मदद करने की ठान ली.


Also Read: सहारनपुर: दो पक्षों में जमकर चले लाठी-डंडे और गोलियां, गुलफाम सहित 8 लोग गिरफ्तार


इसके बाद थाने से महिला दारोगा रूचि व थानाध्यक्ष युवती को उसके घर महेन्द्र नगर लेकर पहुंचे तो देखा कि युवती के 2 छोटे बच्चे हैं. एक 6th कक्षा में है और दूसरा 4th कक्षा में पढाई करते है. जिसके बाद युवती को उसकी सास और पति के सुपुर्द कर दिया गया.



Also Read: बरेली: दो सिपाहियों के बीच हुई जमकर मारपीट, ट्रैफिक पुलिस के सिपाही की फाड़ी वर्दी


वहीं, परिवार की मजबूरी और आर्थिक तंगी देखकर महिला दारोगा रूचि त्यागी और थानाध्यक्ष उदयवीर सिंह मलिक युवती की आर्थिक मदद करने से खुद रोक नही पाये और अपनी तरफ नगद धनराशि देकर उनकी सहायता की. जिसे सभी लोग तारीफ करते नज़र आये. साथ ही परिवार के लोगों ने महिला दारोगा और थानाध्यक्ष को धन्यवाद भी कहा.


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )


Related news

कई संघर्षो से जूझकर बने IPS : भूख शांत करने के लिए खाने में तेज मिर्च डालती थी मां

Satya Prakash

कुशीनगर: अपने आवास पर मृत पाई गई महिला सिपाही, हाथ में मिला स्टैंड फैन

BT Bureau

लखनऊ में तैनात SP के मकान से पकड़ी गई 1800 किलो ड्रग्स, कीमत 400 करोड़

BT Bureau