Breaking Tube
Police & Forces

कैंसिल हुआ यूपी पुलिस दारोगा भर्ती 2016 का रिजल्ट, हाईकोर्ट ने नए सिरे से जारी करने के दिए आदेश

Result of UP Police Recruitment 2016 has been Cancelled Allahabad Highcourt ordered to issue fresh

यूपी पुलिस की दारोगा भर्ती 2016 (UP Police Sub Inspector Recruitment 2016) का सेलेक्शन रिजल्ट इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) द्वारा रद्द कर दिया गया है. इस मामले में हाईकोर्ट ने नए सिरे से सेलेक्शन रिजल्ट लिस्ट जारी करने का आदेश दिया है. हाईकोर्ट ने सेलेक्ट लिस्ट को यूपी सब इंस्पेक्टर, इंस्पेक्टर सर्विस रूल 2015 के विपरीत बताया है.


Also Read: कैंसिल हुआ UP Police SI भर्ती 2017 का रिजल्ट, नियुक्त दारोगाओं की जायेगी नौकरी


हाईकोर्ट में दाखिल की गयी थी याचिका

इस मामले में अतुल कुमार द्विवेदी एवं अन्य लोगों सहित कई याचिकाएं इलाहाबाद हाईकोर्ट में दाखिल की गई थीं. बता दें सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर इलाहाबाद हाईकोर्ट मामले की सुनवाई कर रही थी. जस्टिस सुनीता अग्रवाल और जस्टिस सुनीत कुमार की खंडपीठ ने ये आदेश दिया है. बता दें इस भर्ती का विज्ञापन 17 जून, 2016 को 2707 पदों के लिए जारी हुआ था.


Also Read: अखिलेश यादव ने UP Police को बताया अत्याचारी, कहा- अपराधी नहीं डरते तो आम जनता को दिखाती है अपना खौफ


परीक्षा में फेल 3266 अभ्यर्थी

पुलिस भर्ती बोर्ड ने 28 फरवरी, 2019 को सेलेक्ट लिस्ट जारी की थी. इस लिस्ट में 2181 अभ्यर्थियों को चयनित घोषित किया गया था. वहीं 967 अभ्यर्थियों को नॉन सलेक्टेड करार दिया था. इसके अलावा बोर्ड ने 3266 अभ्यर्थियों को लिखित परीक्षा में फेल बताया था. इसके बाद लिखित परीक्षा में फेल अभ्यर्थियों ने सेलेक्ट लिस्ट को इलाहाबाद हाईकोर्ट में चुनौती दी थी.


Also Read: यूपी: हेलमेट न पहनने पर युवकों ने होमगार्डों को दी अभद्र गालियां, सपा जिंदाबाद बोलने का बनाया दबाव, Video वायरल होने पर आरोपियों की तलाश में जुटी पुलिस


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

बुलंदशहर हिंसा: शहीद इंस्पेक्टर सुबोध की पत्नी ने की एसएसपी से मुलाकात, आरोपियों की जमानत के खिलाफ करेंगी अपील की तैयारी

S N Tiwari

मेरठ: मासूमों ने हत्याकांड में खोया था अपना पिता, SSP अजय साहनी ने गोद लेकर उठाई तीनों की जिम्मेदारी

BT Bureau

मुरादाबाद: मुस्लिम समुदाय के लोगों ने किया दलितों के बाल काटने से इनकार, कहा-‘दलितों के दुकान पर आने से रोजी-रोटी में होता है नुकसान’

BT Bureau