Breaking Tube
Police & Forces

देवरिया: सभी महिला सिपाहियों का होगा मेडिकल टेस्ट, चक्कर खाकर गिरने से धूमिल होती है छवि, अनफिट होने पर किया जाएगा सेवामुक्त- एसपी

अक्सर ऐसा देखा जाता है कि गर्मी, धुप या लगातार ड्यूटी करने की वजह से महिला पुलिसकर्मी चक्कर खाकर गिर जाती हैं. इसी के चलते एसपी देवरिया (Deoria) ने एक ऐसा आदेश दिया है, जिसका सोशल मीडिया पर जमकर विरोध हो रहा है. दरअसल, सोशल मीडिया पर वायरल एक लेटर में ये कहा गया है कि जिले की सभी महिला सिपाहियों का मेडिकल टेस्ट कराया जाएगा. जिसका रिजल्ट आने के बाद जो महिला आरक्षी मानकों के अनुरूप होगी, उसको सेवामुक्त करने पर विचार किया जायेगा.


एसपी के आदेश की कॉपी हुई वायरल

जानकारी के मुताबिक, सोशल मीडिया पर देवरिया (Deoria) एसपी के आदेश का एक लेटर वायरल हो रहा है. जिसमे ये कहा गया है कि, प्राय देखा जाता जा रहा है कि इस जनपद में नियुक्त अधिकांश महिला आरक्षी ड्यूटी के दौरान चक्कर खाकर गिर जाती हैं, जिससे सार्वजानिक स्थलों पर असहज स्थिति उत्पन्न होने के साथ जनता में पुलिस की छवि धूमिल होती है. थानों पर भ्रमण के दौरान भी यह पाया गया है कि कतिपय महिला आरक्षी प्रथम द्रष्टया आरक्षी मानक के अनुरूप प्रतीत नहीं होती हैं. इन्हीं परिस्थितियों को देखते हुए जनपद में नियुक्त सभी महिला सिपाहियों का मेडिकल टेस्ट करना जरूरी है.


Also Read : होमगार्ड वेतन घोटाला: DGP बोले- सबूतों को नष्ट करने के लिए आग लगाई गई, एडीसी सतीश और 2 प्लाटून कमांडर समेत 5 गिरफ्तार


Image may contain: text

अतः आप सभी को निर्देशित किया जाता है कि आप अपने अधीनस्थ नियुक्त महिला सिपाहियों को अपने स्तर से अवगत करा दें कि वह अपने स्वास्थ्य पर समुचित ध्यान दें. एक माह बाद आपके अधीनस्थ नियुक्त महिला सिपाहियों का मेडिकल कराय जायेगा. यही कोई महिला इस दौरान अनफिट मिली तो अग्रिम कार्रवाई करते हुए उसे आरक्षी पद से सेवामुक्त किये जाने पर विचार किया जायेगा.


Also Read : कानपुर: वाहन चेकिंग के दौरान भड़की महिला, पुलिसकर्मियों से कहा- चूड़ियां पहन लो, शर्म करो, मार-मार के संट कर देंगे, Video वायरल


एसपी का हो रहा विरोध

इस लेटर के वायरल होने के बाद एसपी देवरिया (Deoria) का काफी विरोध हो रहा है. लोगों का कहना है कि जब शरीर में पानी की कमी होती है तो चक्कर आता है, अधिकांश महिला आरक्षी पानी की सिर्फ कुछ घूंट ही लेतीं हैं, क्योंकि 12-14 घंटे की सार्वजनिक स्थान की ड्यूटी में शौचालय की व्यवस्था नहीं है, सार्वजनिक स्थान तो छोड़िये आपके कई थानों/चौकियों में उनके लिए शौचालय/स्नानघर की व्यवस्था नहीं है. कभी गौर फरमाइये सिर्फ सेवा समाप्ति इसका विकल्प नही है.


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

महराजगंज: छुट्टी न मिलने से तनाव में था सिपाही, पी लिया जहर

BT Bureau

मैनपुरी: घर में घुस कर दारोगा ने महिला और उसकी बेटी के साथ की छेड़खानी, मारपीट करके फाड़े कपड़े!

BT Bureau

मुजफ्फरनगर: मुठभेड़ में दो शातिर इनामी फैजान और शाहनजर गिरफ्तार, टॉप-10 बदमाशों की लिस्ट में थे शामिल

BT Bureau