Breaking Tube
Politics

योगी के ढाई साल के रिपोर्ट कार्ड को अखिलेश ने बताया ‘झूठा जश्‍न’, बोले- ढाई कोस भी नहीं चल सकी सरकार

यूपी सरकार के ढाई साल पूरे करने पर योगी आदित्यनाथ सरकार (Yogi Adityanath government) ने अपना रिपोर्ट कार्ड पेश किया. योगी ने एक-एक करके जहां अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाईं, वहीं दूसरी तरफ समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने एक-एक करके योगी की उपलब्धियों का काउंटर किया. अखिलेश ने कहा कि सरकार ढाई साल का झूठा जश्न मना रही है, बीजेपी सरकार ढाई साल में सरकार ढाई कोस भी नहीं चली है.


अखिलेश ने तंज कसते हुए कहा सरकार ने अराजकता, लूट-खसोट और असुरक्षा से प्रदेश को युक्त कराया लेकिन मीडिया लिख रही है कि मुक्त कराया. गृह विभाग के आंकड़े के देखें तो बेटियों के साथ सबसे ज्यादा घटनाएं हो रही हैं. सरकार अपराध के झूठे आंकड़े पेश कर रही है जबकि गृह विभाग के आंकड़े सच्चाई बयान कर रहे हैं. अखिलेश ने उन्नाव से लेकर शाहजहांपुर पीड़िताओं का मुद्दा उठाते हुए सरकार पर हमला बोला.


यूपी में बेटियों के साथ अपराध बढ़ा

अखिलेश यादव ने कहा कि 5 ट्रिलियन इकोनॉमी की बात हो रही है तो यूपी कैसे पीछे रह सकता है. आज जब सीएम योगी प्रेस कॉन्‍फ्रेंस कर रहे थे तो उन्नाव में फायरिंग हो रही थी. यूपी में बेटियों के साथ अपराध बढ़ा है. मैनपुरी में 11वीं की छात्रा के साथ, सुल्तानपुर में भी एक बेटी के साथ जो हुआ है, उसकी कल्पना भी नहीं की जा सकती लेकिन अभी तक न्याय नहीं मिल पाया. उन्‍होंने कहा कि राजधानी में भी बड़ी घटनाएं हो रही हैं. उन्नाव की बेटी को FIR के लिए मुख्यमंत्री आवास पर आत्मदाह करने के लिए मजबूर होना पड़ा.


सरकार बताए कितनों को नौकरी दी

अखिलेश यादव ने कहा कि शाहजहांपुर की बेटी को न्याय कैसे मिलेगा? प्रतापगढ़ का व्यापारी सीएम से सुरक्षा के लिए मिलकर गया और हत्या हो गई. सरकार आंकड़े छुपा रही है. गृह विभाग के आंकड़े देखें तो यूपी में हत्या और बलात्कार की घटनाएं बढ़ी हैं. उन्‍होंने कहा कि 2017 के बाद इंडस्ट्रियल पॉलिसी आपने बनाई है. लेकिन तमाम दावों के बाद कोई बड़ा इन्वेस्टमेंट नहीं आया. आप जनता को बताएं कि कितनी नौकरी और कितनी रोजगार दिया?


रामपुर में कार्रवाई, शहजहांपुर में नहीं

अखिलेश ने कहा कि रामपुर में क्या हो रहा है. शासन प्रशासन क्या कर रहा है? रामपुर और शाहजहांपुर पड़ोसी जिले हैं. रामपुर में एक सांसद पर बकरी चोरी की एफआईआर हो रही है और वहीं शाहजहांपुर में बीजेपी नेता के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जा रही जबकि पीड़िता सामने आकर रेप का आरोप लगा रही है. उन्होंने कहा कि यूपी में कोई भी सुरक्षित नहीं है.


अपराधों के झूठे आंकड़े दे रहे सीएम

अखिलेश यादव ने कहा कि हमारे पास तो लिमिट जानकारी है. आपके पास (सीएम) तो सही आंकड़े हैं. कर्जमाफी के नाम पर धोखा दिया गया है. झूठ बोल रही है जहां तक यूपी में अपराधियों का सवाल है. ह्यूमन राइ्स कमिशन से सबसे ज्यादा नोटिस यूपी सरकार को मिले हैं. पुलिस वाले आत्महत्या कर रहे हैं। कस्टडी में सबसे ज्यादा मौतें भी यहीं हुई हैं. कन्नौज में रिजल्ट आते ही लोधी समाज के एक युवक को कस्टडी में पीटपीटकर हत्या कर दी गई. कई किसान आत्महत्या कर चुके हैं. मौर्या समाज का गरीब बरेली में कर्जदार था परिवार के सदस्य बीमार थे. बच्चों की फीस नहीं दे पाया और आत्महत्या कर ली. हमीरपुर में जहां उपचुनाव है वहां पर साहू समाज का किसान घर से निकला और रेल पटरी पर कूद गया.


Also Read: यूपी सरकार के ढाई साल पूरे CM योगी ने गिनाई UP सरकार की उपलब्धियां, बोले- हर तबके के लिए काम किया, एक भी दंगा नहीं हुआ


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

Video: गठबंधन बाद बीएसपी नेता बोले- घबराओ नहीं, भाजपाइयों को दौड़ा-दौड़ाकर कर मारेंगे

BT Bureau

कांग्रेस पर भड़के अखिलेश, बोले- MP में बिना शर्त समर्थन दिया फिर भी हमारे विधायक को मंत्री नहीं बनाया

Jitendra Nishad

मोदी के कौशल विकास मंत्री बोले- हम यहां समाजसेवा करने नहीं, राजनीति करने आए हैं

Jitendra Nishad