Breaking Tube
Politics

आजम की भद्दी टिप्पणी पर छलका जया प्रदा का दर्द, बोलीं- क्या मैं मर जाऊं..तब तुम्हें संतुष्टि मिलेगी

समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता और रामपुर से गठबंधन प्रत्याशी आजम खान के विवादित बयान पर बीजेपी नेता जया प्रदा ने पलटवार किया है. जया प्रदा ने चुनाव आयोग से आजम खान की उम्मीदवारी रद्द करने की अपील की है. इस दौरान जया प्रदा का दर्द छलक कर सबके सामने आ गया और उस दौरान वो भावुक देखीं गयीं


जया प्रदा ने कहा कि आजम खान को चुनाव लड़ने से रोकना चाहिए. ये व्यक्ति अगर चुनाव जीत गया तो सोचिये लोकतंत्र, महिलाओं के साथ क्या होगा. समाज में महिलाओं के लिए कोई जगह नहीं बचेगी हम सब कहाँ जायंगे. क्या मैं मर जाऊं तब तुम्हे संतुष्टि मिलेगी. तुम्हे लगता होगा कि मैं डर जाउंगी और रामपुर छोड़ दूंगी? लेकिन ऐसा नहीं है मैं रामपुर नहीं छोड़ने जा रही.


उन्होंने आगे कहा “ये इन्सान क्या अपने घर में बहन, बेटियों के साथ यही करता है क्या. उन्होंने आगे कहा कि अखिलेश को मैंने छोटा भाई माना लेकिन मुझे उसका ये सिला मिला. जया प्रदा के ने कहा आपको याद होगा 2009 लोकसभा चुनाव के दौरान भी आजम खान ने मुझपर भद्दी टिप्पणियां की लेकिन कोई समाजवादी पार्टी से कोई भी मेरे लिए आगे नहीं आया सिवाय अमर सिंह के. इसके बाद सपा ने अमर सिंह को भी निकाल दिया क्योंकि उन्होंने मेरी सहायता की थी”


बता दें कि रविवार को रामपुर की शाहबाद तहसील में आयोजित एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए आजम खान ने बेहद आपत्तिजनक टिप्पणी की थी. उन्होंने जया का नाम लिए बगैर वहां मौजूद लोगों से पूछा, ‘क्या राजनीति इतनी गिर जाएगी कि 10 साल जिसने रामपुर वालों का खून पिया, जिसे उंगली पकड़कर हम रामपुर में लेकर आए, उसने हमारे ऊपर क्या-क्या इल्जाम नहीं लगाए. क्या आप उसे वोट देंगे?’ आजम ने आगे कहा कि आपने 10 साल जिनसे अपना प्रतिनिधित्व कराया, उसकी असलियत समझने में आपको 17 साल लगे. मैं 17 दिन में पहचान गया कि इनके नीचे का अंडरवेअर खाकी रंग का है.



Also Read: जया प्रदा ने मुलायम पर लगाया गंभीर आरोप, कहा- पूरे रामपुर में फैलाई गयी मेरी अश्लील फोटो


देश और दुनिया की खबरों के लिए हमेंफेसबुकपर ज्वॉइन करेंआप हमेंट्विटरपर भी फॉलो कर सकते हैं. )


Related news

विवेक तिवारी हत्याकांड पर बोलीं मायावती, सरकार कर रही है ‘ब्राह्मणों’ का शोषण

BT Bureau

आँखे तरसती रही उनको पाने की तलाश में, लेकिन हाथ लगी सिर्फ मायूसी

Satya Prakash

भाजपा जिलाध्यक्ष पर लगा महिला कार्यकर्ता से 5 लाख रुपये मांगने, अपहरण के प्रयास का आरोप, एफआईआर दर्ज

BT Bureau