Breaking Tube
Crime Politics

सामूहिक दुष्कर्म में पूर्व सपा मंत्री गायत्री प्रजापति की जमानत अर्जी नामंजूर, जज बोले- सबूतों से छेड़छाड़ कर सकता है आरोपी

gayatri prajapati

सामूहिक दुष्कर्म के आरोप में जेल में बंद पूर्व खनन मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति को स्पेशल कोर्ट एमपीएमएलए ने जमानत पर करने से इंकार कर दिया है। साथ ही आरोपी गायत्री प्रजापति की जमानत अर्जी नामंजूर कर दी है। स्पेशल कोर्ट नेकहा कि अभियुक्त मुख्य आरोपी है, प्रकरण साक्ष्य में चल रहा है और अभियुक्त प्रभावशाली राजनीतिक व्यक्ति है। ऐसे में वह गवाहों को प्रभावित और साक्ष्यों से छेड़छाड़ कर का प्रयास कर सकता है।


जानकारी के मुताबिक, यह आदेश स्पेशल कोर्ट के जज पवन कुमार तिवारी ने एसपीओ राधाकृष्ण मिश्र और एडीजीसी राजेश गुप्ता को सुनकर दिया है। दरअसल, घटना 2016 की लखनऊ के गौतम पल्ली थाने की है। पीड़िता ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि उसे अशोक तिवारी के माध्यम से मंत्री गायत्री प्रजापति ने अपने गौतमपल्ली आवास पर बुलाया था। बालू खनन का काम दिलाने की बात की थी।


Also Read: पहले चरण के रुझान से हताश विपक्ष उतरा ओछी जुबान पर, बदजुबानी के एक्सपर्ट आजम खां को अखिलेश ने बनाया ब्रांड एंबेसडर: शलभ मणि त्रिपाठी


इस दौरान चाय में नशीला पदार्थ मिला कर बेहोशी की हालत में उसके साथ मंत्री और अशोक ने दुष्कर्म किया। अश्लील फोटो निकाली और बार-बार बुलाकर दुष्कर्म करते रहे। वहां पर पिंटू सिंह, विकास वर्मा, आशीष शुक्ला, चंद्रपाल और रूपेश तिवारी ने भी उसके साथ दुष्कर्म किया था।


Also Read: मायावती ने फिर उठाया ईवीएम का मुद्दा, बोलीं- धांधली करके चुनाव जीतना चाहती है BJP


यही नहीं, उसकी बच्ची के साथ भी दुष्कर्म करने का प्रयास किया गया, तब वह बर्दाश्त नहीं कर पाई। अभियुक्तगण द्वारा उसे और उसके परिवार को धमकी दी गई थी। बचाव पक्ष की ओर से तर्क दिया गया कि वादिनी ने गलत और फर्जी रिपोर्ट दर्ज कराई थी। अभियुक्त के विरुद्ध कोई विश्वसनीय साक्ष्य नहीं दिया गया है।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमेंफेसबुकपर ज्वॉइन करें, आप हमेंट्विटरपर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

Video: उपेंद्र कुशवाहा की खूनी धमकी के समर्थन में RJD नेता ने लहराया हथियार, प्रेसवार्ता में बोला- ‘महागठबंधन कहे तो हम गोली चलाने को तैयार’

S N Tiwari

AAP को बड़ा झटका, एचएस फूल्का ने दिया इस्तीफ़ा, केजरीवाल मनाते रहे लेकिन नहीं माने

BT Bureau

AMU के 14 छात्रों पर योगी सरकार ने दर्ज कराया देशद्रोह का मुकदमा, मायावती बोलीं- साम्प्रदायिक द्वेष से काम रही सरकार

BT Bureau