Breaking Tube
Politics

महिलाएं मोदी को न दें वोट, ये आपका इनके द्वारा छोड़ी गयी पत्नी के प्रति सम्मान होगा: मायावती

अलवर गैंगरेप के मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयान पर बीएसपी अध्यक्ष मायावती ने पलटवार किया है. उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी अलवर गैंगरेप की घटना पर चुप थे. वह गैंगरेप के मामले में गंदी राजनीति कर रहे हैं. ताकि उन्हें चुनावों में फायदा मिल सके. यह शर्मनाक है. वो कैसे दूसरों की बहनों और पत्नियों का सम्मान कर सकते हैं जब उन्होंने अपनी पत्नी को राजनीतिक लाभ के लिए छोड़ दिया है.


औरतें सोचती मोदी उन्हें पति से अलग न करवा दें

बीएसपी सुप्रीमों ने कहा कि बीजेपी में खासकर विवाहित औरतें अपने पतियों को नरेन्द्र मोदी के नजदीक जाते देखकर ये सोचकर भी काफी ज्यादा घबराती रहती हैं कि कहीं ये मोदी अपनी औरत की तरह हमें भी उनसे अलग न करवा दें.


मोदी को न दें वोट यह उनकी छोड़ी पत्नी के प्रति सम्मान होगा

मायावती ने कहा कि अब ऐसे में पूरे देश की महिलाओं की से मेरा ये अनुरोध है कि ये इस किस्म के व्यक्ति को अपना वोट कतई न दें, और फिर आपका नरेंद्र मोदी की छोड़ी गयी पत्नी के प्रति सम्मान भी होगा.


मोदी ने खुद को बनाया पिछड़ा

मायावती ने कहा कि हमारे गठबंधन को जातिवादी कहना ना सिर्फ हास्यास्पद है बल्कि बचकाना भी है. नरेंद्र मोदी पिछड़ी जाति के नहीं हैं, इसी वजह से उन्हें जातिवाद का दंश नहीं सहन करना पड़ा है. गठबंधन के लिए ऐसे शब्दों के इस्तेमाल से बचा जाना चाहिए क्योंकि ऐसे शब्द ठीक नहीं हैं. बसपा प्रमुख ने कहा कि मोदी ने खुद को जबरदस्ती का पिछड़ा घोषित कर रखा है. अगर वह जन्म से ही पिछड़े हैं तो राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ उन्हें दोबारा प्रधानमंत्री नहीं बनने देगा.


Also Read: स्वतंत्र भारत का पहला आतंकवादी हिन्दू था, जिसका नाम नाथूराम गोडसे है: कमल हासन


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )


Related news

अमेठी: स्मृति ईरानी के करीबी सुरेंद्र सिंह की हत्या का मुख्य आरोपी मोहम्मद वसीम मुठभेड़ में गिरफ्तार

BT Bureau

अखिलेश को मायावती ने दिया 2 दिन का अल्टीमेटम, बोलीं- अमेठी-रायबरेली से फाइनल करें गठबंधन का प्रत्याशी

Jitendra Nishad

यूपी-बिहार वालों को नौकरी न देने के फैसले पर कमलनाथ बोले- ऐसा तो सब जगह होता, मैंने क्या गलत कहा?

BT Bureau