Breaking Tube
Politics

सोनभद्र: प्रियंका गांधी ने पीड़ित परिजनों से की मुलाकात, बीजेपी ने बताया ‘राजनीतिक स्टंट’

प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) मंगलवार को एक बार फिर सोनभद्र दौरे पर हैं, जहां वह उम्भा गांव में नरसंहार (Sonbhadra Massacre) के पीड़ित परिवारों से मुलाकात कर उनका दुख-दर्द साझा किया. प्रियंका के इस दौरे को लेकर यूपी की सियासत भी गर्म हो गई है. डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने इसे राजनीतिक स्टंट करार दिया है.


वाराणसी में कांग्रेसियों से मुलाकात करतीं प्रियंका गांधी।

प्रियंका गाँधी आज उम्भा गांव पहुंची. खेत के पगडंडियों के रास्ते पर चलते हुए प्रियंका गांधी ने घटनास्थल का किया दौरा किया. पीड़ित के घर पहुंचकर उनसे मिलीं और जानकारी ली, इस दौरान वे घायल रामरक्षा घायल के घर भी पहुंची.


सोनभद्र के लिए रवाना।

बीजेपी (BJP) का कहना है कि इस पूरे विवाद पर जांच के लिए सरकार द्वारा जो समिति बनाई गई उसने साफ किया है कि सोनभद्र के ज़मीन विवाद की जड़ 1955 में कांग्रेस की सरकार के दौरान आदर्श सोसायटी का बनाया जाना है. लिहाज़ा अब क्य़ा प्रियंका अपने इस दौरे पर इन आरोपों का जवाब देंगी.


उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने प्रियंका के दौरे पर हमला बोला है. शर्मा ने कहा कि, प्रियंका गांधी वाड्रा को पछतावे की भावना के साथ सोनभद्र का दौरा करना चाहिए, क्योंकि यह घटना एक तरह से सत्तारूढ़ कांग्रेस नेताओं द्वारा किए गए भूमि अधिग्रहण से जुड़ी है, लेकिन मुझे लगता है कि वह मीडिया ट्रायल का हिस्सा बन रही हैं. उनका यह दौरा राजनीतिक स्टंट है.


गौरतलब है कि सोनभद्र के घोरावल इलाके में 17 जुलाई को जमीन के एक टुकड़े को लेकर हुए संघर्ष में 10 गोंड आदिवासियों की हत्या कर दी गई थी और 18 अन्य घायल हो गए थे. सोनभद्र गोलीकांड में मारे गए लोगों के परिजनों से मिलने 19 जुलाई को पहुंचीं प्रियंका गांधी को राज्य प्रशासन ने बीच रास्ते में ही रोक लिया था और बाद में हिरासत में ले लिया था. गोलीकांड के बाद तनाव को देखते हुए प्रशासन ने इलाके में धारा 144 लागू कर दी थी. प्रियंका को वहां जाने की अनुमति नहीं दी गई.


Manoj Verma

Also Read: सोनभद्र नरसंहार: सत्ता के दम पर कांग्रेस नेता ने हथियाई थी ग़रीब आदिवासियों की जमीन, अवैध कब्ज़ा ही बना बेगुनाहों के नरसंहार की वजह


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमेंफेसबुकपर ज्वॉइन करें, आप हमेंट्विटरपर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

हरदोई: बीजेपी सांसद बोले- मोदी जी को प्रधानमंत्री बनाना है तो ‘सायकिल का बटन’ दबाइए

BT Bureau

अखिलेश, मायावती और अजीत के खिलाफ कांग्रेस नहीं उतारेगी प्रत्याशी, सपा-बसपा गठबंधन के लिए छोड़ीं 7 सीटें

BT Bureau

केरल बाढ़ राहत के लिए अखिलेश यादव ने ट्वीट कर जारी की अपील

Aviral Srivastava