Breaking Tube
Lok Sabha 2019 Politics

अखिलेश के खिलाफ शिवपाल का एलान, बोले- न कोई चाचा और न कोई भतीजा, अब हम प्रतिद्वंदी

Shivpal Singh Yadav

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने आज शिकोहाबाद के रामलीला मैदान की जनसभा से बड़ा एलान किया है। शिवपाल सिंह यादव ने सुहागनगरी में रविवार को फिरोजाबाद से लोकसभा का चुनाव लड़ने का एलान किया। इसके साथ ही उन्होंने दो और प्रत्याशियों का नाम फाइनल कर दिया। शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि मैं फिरोजाबाद से लोकसभा का चुनाव लड़ूंगा। मैं इस बात का एलान करता हूं। इसके साथ ही मैं संजय सक्सेना को रामपुर तथा अनामिका अम्बर कवियत्री को मेरठ से प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) का प्रत्याशी घोषित करता हूं।


शिवपाल बोले- जब्त करा देना विरोधियों की जमानत

उन्होंने कहा कि फिरोजाबाद से आप मुझे जिता देना और विरोधियों की जमानत जब्त करा देना। उन्होंने कहा कि जनता चाहती है इसलिये वे फिरोजाबाद सीट से चुनाव लड़ेंगे। शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि अब मैंने चुनाव मैदान में उतरने की घोषणा कर दी है। अब न तो कोई चाचा है और न ही कोई भतीजा है। अब तो हम प्रतिद्वंदी हैं। उन्होंने आगे कहा कि पूरे प्रदेश में कोई जिला नहीं है जहां सड़कों का जाल न बिछा हो, नहरें न बनी हों। राजस्व संहिता को दो साल में मैंने लागू कराया था।


Also Read: यूपी: आपस में भिड़े सपा और भाजपा कार्यकर्ता, जमकर चले ईंट-पत्थर और कुर्सियां


इस दौरान प्रसपा अध्यक्ष ने कहा कि हम नेताजी के साथ हमेशा थे और रहेंगे। हमने नेताजी को चुनाव लड़ने का प्रस्ताव दिया है। हम उन्हें जिताएंगे। आपने जो प्यार मोहब्बत दिखाया है हम उसे सलाम करते हैं। आपकी बात को ठुकरायेंगे नहीं। उन्होंने आगे कहा कि हमने कभी सोचा नहीं था कि नेता जी के रहते कभी परिवार टूटेगा।


मलाई चाटने वालों ने सपा से निकाला

शिवपाल ने दुखी होते हुए कहा कि नेताजी और मेरे खिलाफ गन्दा लेटर लिखा गया। रामगोपाल यादव का जिक्र करते हुए कहा कि कभी प्रोफेसर की बात को नहीं टाला, जवाब भी नहीं दिया। पार्टी बनाने से पहले चार बार दिल्ली गया। मैंने 45 साल तक सपा का झण्डा उठाया, उसे टाइप 6 का बंगला मिला और हम पर भाजपा से जुड़ने का आरोप लगाया।


Also Read: शिवपाल के मंच से हजरत मौलाना अंसार ने मायावती को बताया ‘नागिन’, बोले- डायन भी एक घर छोड़कर हमला करती है लेकिन ये तो..


शिवपाल ने आगे कहा कि अगर आप कहेंगे तो ऐसे सौ बंगले ठुकरा सकता हूं। मैं झोपड़ी में रहा हूं और रह सकता हूं। यदि चुनाव की बात है तो चुनाव लड़ना पड़ेगा। उन्हें दुखी होते हुए कहा कि मुझे सपा से मलाई चाटने वालों ने निकाला। मैं जनता में रहा और लोग पैसा कमाते रहे। मैंने पहले कहा था कि एक वोट और एक नोट देना पड़ेगा। ये चुनाव आपको लड़ना पड़ेगा। गठबंधन पर शिवपाल बोले कि मैंने कहा है कि समान विचारधारा की पार्टियां मेरे साथ आ जाएं। सेकुलर पार्टियां एक हो जाएं।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

उत्तर प्रदेश में किसानों के 39 साल पुराने सपने को पूरा करेंगे : पीएम मोदी

Aviral Srivastava

भाजपा नेता की सीताराम येचुरी को रामायण-महाभारत पर बहस की खुली चुनौती

BT Bureau

यूपी: BJP विधायक बोले- अब कुंवारे कार्यकर्ताओं की शादी कश्मीर की गोरी लड़की से करा देंगे और…

S N Tiwari