Breaking Tube
  • Home
  • Police & Forces
  • यूपी: रिवाल्वर का लॉक तक नहीं खोल पाए दारोगा और सिपाही, शर्मिंदा हुए एसएसपी
Police & Forces

यूपी: रिवाल्वर का लॉक तक नहीं खोल पाए दारोगा और सिपाही, शर्मिंदा हुए एसएसपी

moradabad police

कुछ दिनों पहले यूपी के संभल जिले में मुठभेड़ के दौरान दारोगा जी के मुंह से ठांय-ठांय की आवाज निकालने वाला वीडियो तेजी से वायरल हुआ। जिसके बाद विभाग ने पुलिसकर्मियों को ट्रेनिंग देने की बात कही। वहीं, अब मुरादाबाद जिले में एसएसपी ने पुलिस को सार्वजनिक तौर पर शर्मिंदा होने से बचाने के लिए शुक्रवार को रिजर्व पुलिस लाइन में परेड के दौरान वेपन हैंडलिंग टेस्ट लिया तो वो दंग रह गए।

 

रिवॉल्वर का लॉक तक नहीं खोल पाए पुलिसकर्मी

सूत्रों ने बताया कि मुरादाबाद के एसएसपी जे रविंदर गौड ने शुक्रवार को साप्ताहिक परेड में पुलिसकर्मियों का वेपन हैंडलिंग टेस्ट लिया। इस दौरान एसएसपी ने परेड में शामिल पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों से शस्त्रों को खोलने और फिर उन्हें बद कर फायर करने के लिए तैयार करने को कहा।

 

Also Read :  DGP कार्यालय में तैनात IPS कुंतल किशोर समेत 6 पुलिसकर्मियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज

 

सूत्रों ने बताया कि अलग-अलग टीमों को बुलाकर उनका वेपन हैंडलिंग टेस्ट लिया गया। ऐसे में कई सिपाही और दारोगा असलहों का लॉक तक नहीं खोल पाए। सूत्रों के मुताबिक, कुछ ने खोल असलहों को खोल तो लिया लेकिन उन्हें बंद करने में पसीने छूट गए। पुलिसकर्मियों की ऐसी हालत देखकर एसएसपी शर्म से पानी-पानी हो गए।

 

Also Read :  अब यूपी पुलिस को नहीं लेना पड़ेगा ATS का सहारा, डीजीपी ने तैयार की ‘स्पेशल पुलिस ऑपरेशन टीम’

 

एसएसपी ने खुद पुलिसकर्मियों को असलहों को खोलना सिखाया

इसके बाद एसएसपी जे रविंदर गौड ने ट्रेनरों के जरिए सभी पुलिसकर्मियों को शस्त्रों की सफाई और उन्हें खोलने-जोड़ने का अभ्यास कराया। यही नहीं, एसएसपी ने खुद असलहों को खोलना और बंद करने के बारे में पुलिसकर्मियों बताया। इस दौरान एसएसपी ने कहा कि जब नियमित रूप से अभ्यास किया जाएगा तभी जरूरत पड़ने पर इन शस्त्रों का सजगता से प्रयोग किया जा सकेगा।

 

Also Read : यूपी: पेशी पर आया कैदी कटघरे से हुआ फरार, देखते रहे पुलिसवाले और जज

 

बता दें कि इस तरह का यह पहला मामला नहीं है। हाल ही में अमरोहा जिले में एक एनकाउंटर के दौरान दारोगा की पिस्टल से फायर नहीं हो पाया था। वहीं, इससे पहले संभल जिले में एनकाउंटर के दौरान दारोगा पिस्टल से फायर नहीं कर सके थे तो मुंह से ही ठांय-ठांय करने लगे थे।

 

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

46000 करोड़ के रक्षा सौदों को मंजूरी, नौसेना को मिलेंगे 125 से अधिक हेलिकॉप्टर

Ambuj

यूपी पुलिस के दारोगा ने किया ऐसा काम, लगने लगे जयकारे

BT Bureau

मिर्जापुर: सिपाही 45 दिन से मांग रहा था एक दिन की छुट्टी, नहीं मिली तो खाया जहर

Jitendra Nishad

Leave a Comment