Politics

भीम आर्मी चीफ बोले- मैं नहीं मिलना चाहता था प्रियंका गाँधी से लेकिन..

Priyanka gandhi

आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर उत्तर प्रदेश में लगातार नया सियासी घटनाक्रम देखने को मिल रहा है. इसका ताजा उदाहरण बुधवार को देखने को मिला जब कांग्रेस महासचिव और पूर्वांचल की प्रभारी प्रियंका गांधी अचानक मेरठ पहुंची और भीम आर्मी के मुखिया चंद्रशेखर से अस्पताल में मुलाकात की. इस मुलाकात के दौरान प्रियंका गांधी के साथ कांग्रेस महासचिव और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के प्रभारी ज्योतिरादित्य सिंधिया और यूपी कांग्रेस के अध्यक्ष राज बब्बर भी थे.


राजनीतिक जानकार इस मुलाक़ात के भीम आर्मी और कांग्रेस की नजदीकियों के कयास लगा रहे हैं, वहीं भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर ने गुरुवार को उन तमाम राजनीतिक अटकलों को यह कह कर विराम लगा दिया कि उनका कांग्रेस से कुछ लेना-देना नहीं है.


मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक भीम आर्मी चीफ ने कहा कि बुधवार को सुश्री वाड्रा से मिलने का मैं इच्छुक नहीं था, लेकिन बाद में औपचारिकता के नाते उनसे मुलाकात की. उन्होंने कहा कि कांग्रेस महासचिव जब उनसे मिलीं तो यही लग रहा था कि वह एक मरीज का हालचाल पूछने आई हैं.


भीम आर्मी प्रमुख ने बताया कि प्रियंका ने उनसे मुलाकात के दौरान राजनीति पर चर्चा नहीं की. वह समाजवादी पार्टी (सपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के गठबंधन के साथ हैं और मौका मिला तो वाराणसी सीट से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे.


Also Read: अमेठी-रायबरेली से प्रत्याशी उतारने की तैयारी में सपा-बसपा गठबंधन, कांग्रेस से तल्खी के ये हैं कारण


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमेंफेसबुकपर ज्वॉइन करें, आप हमेंट्विटरपर भी फॉलो कर सकते हैं. )


232 total views, 1 views today

Related news

प्रियंका बोलीं- पहले की तरह घर में बैठी रह सकती थी, लेकिन बाहर निकली हूं क्योंकि आज देश संकट में है

BT Bureau

मायावती की धमकी के आगे झुकी कमलनाथ सरकार, बसपा नेताओं पर लगे केस होंगे वापस

BT Bureau

कथित अमेरिकी हैकर सैयद शुजा के झूठे निकले दावे, न तो ECIL में काम किया और न ही हैदराबाद के किसी कॉलेज से डिग्री ली

BT Bureau

Leave a Comment