Breaking Tube
Politics

सपा-बसपा गठबंधन ने क्यों छोड़ी अमेठी-रायबरेली सीट, मायावती ने किया खुलासा

समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव और बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती आज साझा प्रेस काफ्रेंस कर गठबंधन को लेकर सभी तरह के सवालों से पर्दा हटा दिया है. मायावती ने ऐलान किया कि उत्‍तर प्रदेश की 80 लोकसभा सीटों में से 38 पर बसपा और 38 पर सपा लड़ेगी. साथ ही अन्‍य 2 सीटें रिजर्व रखी गई हैं. इसके अलावा अमेठी और रायबरेली की 2 सीटें कांग्रेस के लिए छोड़ दी हैं.

 

Also Read: सपा कार्यकर्ता कान खोलकर सुन लें, आज से मायावती जी का अपमान हमारा अपमान है: अखिलेश यादव

 

मायावती ने कहा ’25 साल बाद सपा और बसपा का गठबंधन बना है. आज ही यह प्रेस कांफ्रेंस पीएम मोदी और शाह की नींद उड़ाएगी.’ उन्‍होंने कहा कि उत्‍तर प्रदेश की जनता बीजेपी से त्रस्‍त आ गई है. इसलिए हमने गठबंधन कर चुनाव लड़ने का फैसला लिया है. जिससे किसी भी कीमत पर बीजेपी को केंद्र या राज्‍य की सत्‍ता पर आने से रोका जा सके.’ उन्‍‍‍‍‍‍‍होंने कहा कि कांग्रेस के समय घोषित इमरजेंसी लगी थी, जबकि BJP के राज्‍य में अघोषित इमरजेंसी लगी हुई है. उन्‍होंंने कहा कि सपा-बसपा गठबंधन केंद्र में BJP को नहीं आने देगा.

 

Also Read: सपा-बसपा गठबंधन: मायावती ने बताया क्यों नहीं शामिल किया कांग्रेस को, अखिलेश बोले- अगला पीएम यूपी से

 

मायावती ने कहा, ‘अमेठी और रायबरेली, यह दोनों लोकसभा की सीटें हमने कांग्रेस पार्टी के साथ बिना कोई गठबंधन किए ही उनके लिए छोड़ दी हैं, ताकि बीजेपी के लोग इन दोनों सीटों पर कांग्रेस पार्टी की संरक्षक व उनके अध्यक्ष को उलझाकर न रख सकें.’ हालांकि, समाजवादी पार्टी पहले भी चुनावों में सोनिया गांधी और राहुल गांधी के खिलाफ उम्मीदवार नहीं उतारती थी. लेकिन बसपा उम्मीदवार मैदान में होता था. वहीं, कांग्रेस ने कन्नौज और मैनपुरी जैसी सीटों पर सपा के खिलाफ अपने उम्मीदवार नहीं उतारे थे.

 

Also Read: गेस्टहाउस कांड: उस दिन मायावती के साथ कुछ ऐसा हुआ था जिसने बदल डाला उनके कपड़े पहनने का स्टाइल

 

देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करेंआप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

बिहार: कुशवाहा को न्योता देते हुए बोले तेजस्वी- एनडीए में आपकी नहीं कोई जगह

admin

मुलायम को लेकर शिवपाल ने दिया बड़ा बयान, अखिलेश की बढ़ सकती हैं मुश्किलें

Jitendra Nishad

कांग्रेस को फूटी आँखों नहीं सुहाया प्रणब दा और संघ का साथ, मनीष तिवारी ने सवालों से साधा निशाना

admin

Leave a Comment