Politics

AAP नेता नवीन जयहिंद के तप को लेकर पार्टी में मचा घमासान, पति के समर्थन में स्वाति मालीवाल ने कही ये बड़ी बात

जहां एक ओर मासूम बच्चियों से दुष्कर्म को लेकर पूरे देश में लोगों का गुस्सा फूट रहा है, वहीँ दूसरी ओर इस चिलचिलाती धूप में आम आदमी पार्टी के नेता और हरियाणा प्रदेश अध्यक्ष नवीन जयहिंद तप कर रहे हैं, जिसे लेकर पार्टी में खींचतान मची हुई है. मामला तब बढ़ गया जब यह लड़ाई खुलेआम ट्विटर पर तक आ गयी.


नवीन जयहिंद को लेकर मध्य प्रदेश अध्यक्ष आलोक अग्रवाल ने निशाना साधा. उन्होंने आप नेता के इस तप को नौटंकी करार दे दिया. आलोक ने ट्विटर पर लिखा, “मेरा आग्रह है @ArvindKejriwal जी से कि इस प्रकार के नाटक बंद करवाएं, इससे पार्टी की छवि धूमिल होती है और हम सब हास्य के पात्र बनते हैं”.



जब एक आप प्रदेश संयोजक ने दूसरे आप प्रदेश संयोजक पर सवाल उठाए तो इस पर दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्षा स्वाति मालीवाल भड़क गई. स्वाति मालीवाल का भड़कना लाजमी भी था क्योंकि हरियाणा प्रदेश संयोजक नवीन जयहिंद स्वाति मालीवाल के पति हैं.


स्वाति मालीवाल ने आलोक के ट्वीट को कोट करके लिखा “2 साल की बच्ची का बलात्कार हुआ उसकी आँखें निकाल मार डाला. कुछ करना तो दूर तुमसे एक ट्वीट तक न हुआ. 1 आदमी इससे आहत हो 48 डिग्री धूप में तप रहा है, उसको तुम नौटंकी कहते हो! उज्जैन में हुए रेप के ख़िलाफ़ कुछ करो. बकवास करने वाले तुम जैसे बेशर्म नेताओं की वजह से देश के ये हाल हैं”.



आलोक अग्रवाल ने जवाबी ट्वीट करते हुए कहा कि ‘स्वाति जी क्रोध में भाषा पर नियंत्रण न खोएं नवीन जी ने पहले भगवा पहनकर प्रेस कॉन्फ्रेंस की, फिर जाति न बताने वाले जयहिंद ने नाम के आगे पंडित लगाया, फिर बैकड्रॉप पर बड़े तिलकवाला फोटो राजनीति में रहकर क्या प्रतीकों की राजनीति हम समझ नहीं पा रहे हैं, वह भी इस दौर में? अत्यंत दुखद!!



वहीं इस मामले पर नवीन जयहिंद का कहना है कि जिस तरह से नाबालिग बच्चियों से रेप जैसी घटनाएं हो रहीं हैं, वे इससे आहत हैं और इसलिए तप के माध्यम से अपने शरीर को कष्ट देकर लोगों की सद्बुद्धि के लिए कामना कर रहे हैं.


Also Read: यूपी में अब गैरजमानतीय अपराधों में भी मिल सकेगी बेल, ये हैं शर्तें


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )


Related news

मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में अरुण जेटली नहीं बनेंगे वित्त मन्त्री, शाह को मिल सकती है ये अहम जिम्मेदारी

BT Bureau

WOSY celebrates Womanhood by recognizing them as powerful Transformative Agent for Global Harmony and Governance 2.0

BT Bureau

क्यों न दागी को टिकट देने वाली पार्टी का रद्द कर दिया जाए पंजीकरण : सुप्रीम कोर्ट

BT Bureau