Breaking Tube
Politics

डिप्रेशन में बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री, पत्रकारों से पूछा- फांसी लगाकर मर जाऊं

Tejpratap yadav

बिहार की महागठबंधन सरकार में स्वास्थ्य मंत्री रह चुके तेज प्रताप यादव इन दिनों काफी मुश्किल दौर से गुजर रहे हैं। ऐसे इसलिए क्योंकि एक तरफ उन्होंने अपनी पत्नी ऐश्वर्या से तलाक की अर्जी दी हुई है, वहीं, दूसरी तरफ घरवाले ही इस मामले में उनका सपोर्ट नहीं कर रहे हैं।

 

मीडिया से बोले- फांसी लगाकर आत्महत्या कर लूं

सूत्रों का कहना है कि तेजप्रताप यादव पर तनाव इस कदर हावी हो गया है कि मीडिया के सवाल पर उन्होंने यह तक कह दिया कि मैं मर जाऊं या फिर फांसी लगाकर आत्महत्या कर लूं। बताया जा रहा है कि लालू प्रसाद यादव तेजप्रताप का समर्थन करते हैं लेकिन उन्होंने भी ऐश्वर्या को तलाक देने की अर्जी पर ऐतराज जताया है।

 

Also Read : तेजप्रताप के माथे पर लगा था ‘बैंडेज’, बोले- मैं तो हूं ‘कृष्ण’ लेकिन ऐश्वर्या मेरी ‘राधा’ नहीं

 

सूत्र बताते हैं कि लालू यादव प्रसाद यादव ने कहा कि मेरे जेल से निकलने तक का इंतजार कर लो, इसपर तेजप्रताप ने दो टूक सुनाते हुए कह दिया कि जब आप मेरी नहीं सुनते तो मैं आपकी बात क्यों मानूं। लालू यादव ने भी तेज प्रताप से ऐश्वर्या को तलाक नहीं देने की बात कही थी।

 

स्वास्थ्यमंत्री रह चुके हैं तेजप्रताप यादव

बता दें कि बिहार में नीतीश कुमार के साथ महागठबंधन की सरकार में तेजप्रताप यादव स्वास्थ्य मंत्री भी रह चुके हैं। मीडिया से बातचती के दौरान उन्होंने कहा, ‘हां, यह सच है कि मैंने तलाक की याचिका की अर्जी दाखिल की है।’ उन्होंने आगे कहा कि घुट-घुटकर जीने से तो कोई फायदा नहीं है।

 

Also Read: वाराणसी: 16 साल बाद जेल से ‘श्रीमद्भागवत गीता’ लेकर रिहा हुआ पाकिस्तानी कैदी, बोला- इस देश में बहुत प्यार मिला

 

बता दें कि शुक्रवार को तेज प्रताप ने पटना के सिविल कोर्ट में तलाक के लिए आवेदन किया था। तेज और ऐश्वर्या की शादी को महज 6 महीने ही हुए थे लेकिन पिछले कुछ समय से दोनों के बीच सब कुछ ठीक नहीं चल रहा था। लालू के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव की पत्नी ऐश्वर्या राजद के ही विधायक चंद्रिका राय की बेटी हैं। इन दोनों की शादी में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान सहित कई पार्टी के नेता शामिल हुए थे।

 

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

बस्ती फ्लाईओवर हादसे पर अखिलेश का योगी पर तंज, अपने भ्रष्टाचार की जांच के लिए स्थायी आयोग बना लेना चाहिए

Satya Prakash

क्यों न दागी को टिकट देने वाली पार्टी का रद्द कर दिया जाए पंजीकरण : सुप्रीम कोर्ट

BT Bureau

एक बार फिर ‘कंफ्यूज’ हुए राहुल, पहले से लागू ‘आयुष्मान योजना’ को अमल में लाने की कर बैठे घोषणा

BT Bureau

Leave a Comment