Breaking Tube
Social Media

फेक न्यूज़ से बचने के लिए आधार से जोड़े जाएं सोशल मीडिया अकाउंट, सुप्रीम कोर्ट में याचिका हुई दायर

इन दिनों सोशल मीडिया पर फेक न्यूज़ बड़ी तेजी से फ़ैल रहीं हैं जिस पर लगाम लगाने के लिए सुप्रीम कोर्ट में एक जनहित याचिका दायर की गई है. जिसमें यह अनुरोध किया गया है कि फेसबुक, ट्विटर और वे न्यूज पोर्टल समेत सोशल मीडिया को आधार से लिंक किया जाए. याचिका में सुप्रीम कोर्ट से इस संबंध में केंद्र सरकार को निर्देश देने का अनुरोध किया गया है.


यह याचिका वरिष्ठ अधिवक्ता और बीजेपी नेता अश्विनी उपाध्याय ने दाखिल की है. अश्विनी का दावा है कि इस समय देश में 3.5 करोड़ ट्विटर एकाउंट और 32.5 करोड़ फेसबुक एकाउंट हैं और सोशल मीडिया के जानकारों के मुताबिक इनमें से 10 फीसद एकाउंट फेक हैं, जिनका उपयोग करके सामजिक सौहार्द बिगाड़ने का काम किया जाता है जिससे समाज में द्वेष फैलता है.


याचिका के मुताबिक़ ट्विटर और फेसबुक पर नामचीन लोगों और बड़ी हस्तियों के नाम पर सैकड़ों फेक एकाउंट चल रहे हैं. संवैधानिक संस्थाओं के असली फोटो भी इन फर्जी एकाउंट्स के साथ लगे हैं. इसलिए आम आदमी इस पर जारी होने वाली खबरों को असली समझ कर भरोसा कर लेता है.


अश्विनी उपाध्याय ने अपनी याचिका में मांग की है कि चुनाव के दौरान विपक्षी प्रत्याशी की छवि को खराब करने के लिए भी इन सोशल मीडिया एकाउंट का इस्तेमाल नहीं होने देना चाहिए. याचिका में सुप्रीम कोर्ट से मांग की गई है कि वह फेक सोशल मीडिया एकाउंट को बंद करने के लिए केंद्र सरकार को कदम उठाने का निर्देश दे.


Also Read: Video: जब प्रचार छोड़कर जलती गेहूं की फसल बुझाने दौड़ीं स्मृति ईरानी, हैंडपंप चलाकर ग्रामीणों की मदद


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमेंफेसबुकपर ज्वॉइन करें, आप हमेंट्विटरपर भी फॉलो कर सकते हैं. )


Related news

अज़ान की आवाज़ से परेशान होने वाले सोनू निगम ने कहा, ‘काश मैं पाकिस्तान में पैदा हुआ होता’

BT Bureau