Breaking Tube
Social

लव, सेक्स और धोखे की कहानी में उलझे UP के एक अफ़सर, आधी रात को प्रेमिका से करनी पड़ी शादी

उत्तर प्रदेश में उपजिलाधिकारी स्तर का एक अधिकारी लव, सेक्स और धोखे की कहानी में ऐसा उलझा कि आधी रात को शादी रचानी पड़ गयी. जानकारी के मुताबिक जिला कुशीनगर (Kushinagar) में एसडीएम पद पर तैनात अफसर पर पूर्व महिला मित्र ने उनपर शादी का झांसा देकर शारीरिक शोषण करने का आरोप लगाया था. महिला का आरोप है कि शादी का झांसा देकर एसडीएम चार साल तक उसका शारीरिक शोषण करते रहे. और कई बार उसका अबॉर्शन कराया. मामले को बढ़ता देख अफसर ने बिना कोई देरी किए आधी रात को उससे शादी रचा ली. जिले प्रशासन के अधिकारी मामले को दबी जुबान में तहर की बाते चल रहीं लेकिन इसे लेकर खुले तोैर पर कोई कुछ बोलने को तैयार नहीं है.


पीड़िता के मुताबिक जब भी वह शादी की बात कहती तो एसडीएम उसके साथ मारपीट करता. शुक्रवार को कलेक्ट्रेट ऑफिस में यह फिल्मी ड्रामा दिन बर देखने को मिला. खुद को इस मामले में घिरता देख कर एसडीएम साहब आखिर शादी करने के लिए राजी हो गए. देर रात एक मंदिर में उन्होंने शादी रचा ली. शादी में गवाह के रूप में उसके साथ ही कार्यरत दो एसडीएम शामिल हुए.


दरअसल, एसडीएम पर आरोप है कि उन्होने शादी का झांसा देकर अपनी महिला मित्र का शारीरिक शोषण किया. युवती शादी का दबाव बनाने लगी लेकिन एसडीएम कन्नी काट गए. शुक्रवार को जब युवती को कुछ और नहीं सूझा तो उसने शिकायत करने का बन लिया. युवती ने आला अधिकारियों से मिली तो उच्च अधिकारियों ने आपस मे बातचीत कर शादी की एक राय पर सहमत हुए, जिसके तहत एसडीएम ने आधी रात शादी रचाई. यह पूरा मामला इलाके में चर्चा का विषय बना हुआ. कोई कुछ भी खुलेतौर पर बोलने को तैयार नहीं है हालांकि दबी जुबान तरह की बातें की जा रहीं हैं.


Also Read: यूपी: पीएम नरेंद्र मोदी का मंदिर बनवाना चाहती हैं मुस्लिम महिलाएं, DM ऑफिस जाकर मांगी इजाजत


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

फेसबुक से PM को दी गयी धमकी, लिखा- ‘मोदी को किसी भी चुनावी रैली में मार डालूंगा’

S N Tiwari

पाक सुप्रीम कोर्ट ने कहा- इंडियन शोज़ के कारण हमारे कल्चर को नुकसान पहुंच रहा, लगेगा प्रतिबंध

BT Bureau

दूल्हे की वेशभूषा में बारातियों संग नामांकन करने पहुंचा ये प्रत्याशी, बोला- ‘राजनीति का दामाद हूं’

S N Tiwari