Breaking Tube
Police & Forces Social

बागपत: प्रेमी ने किया मना तो प्रेमिका से इंस्पेक्टर बोला- अपने थाने के दीवान से करवा दूं शादी

HINDU-MUSLIM LOVE AFFAIR

उत्तर प्रदेश के बागपत जिले से हिंदू युवक और मुस्लिम युवती के प्रेम-प्रसंग के बाद शादी न करने का मामला सामने आया है. शहर के बालैनी में नर्सिंग होम में भर्ती युवक ने पुलिस पर सवाल उठाए हैं. युवक का आरोप है कि पुलिस युवती से उसकी शादी कराना चाहती है, लेकिन वह मना कर रहा है. मना करने पर उसकी पिटाई भी की गई. इसके बाद पुलिस उसे अस्पताल लेकर पहुंची.


इतना ही नहीं पुलिस के सामने ही युवती ने जहर भी खाया है, लेकिन पुलिस इससे इंकार कर रही है. युवक के अनुसार इंस्पेक्टर ने युवती से कहा कि अगर युवक शादी नहीं करता तो थाने में तैनात अपने दीवान से उसकी शादी करा दें. आरोप है कि पुलिस ने युवक और युवती दोनों की पिटाई भी की और परेशान किया.


Also Read: लखनऊ: पलक झपकते ही मोबाइल करते पार, सैलरी मिलती है 10 हजार


दरअसल, बागपत में बालैनी थाना क्षेत्र के एक गांव की युवती रेहाना (काल्पनिक नाम) बीते 3 जून को घर से लापता हो गई. युवती का गांव के ही एक युवक मनोज (काल्पनिक नाम) से प्रेम-प्रसंग चल रहा था. रेहाना के घरवाले उसकी शादी कराना चाहते थे, लेकिन वह गांव के ही मनोज से शादी करना चाहती थी. इस मामले पर पुलिस ने मनोज को हिरासत में लेकर पूछताछ की. मनोज ने पुलिस को बताया कि वह रेहाना से शादी नहीं करना चाहता. पुलिस ने मनोज का मोबाइल नंबर सर्विलांस पर लगाया.


Also Read: मदरसा संचालक समेत 7 ने किया छात्रा से गैंगरेप, बोला- छोटी बहन भी मेरे हवाले करो नहीं तो कर दूंगा Video वायरल


बीते सोमवार सुबह रेहाना ने मनोज को अज्ञात नंबर से कॉल किया. इस पर पुलिस ने कॉल ट्रेस कर रेहाना को वृंदावन के कनक धारा फाउंडेशन नामक एनजीओ से बरामद किया. मंगलवार सुबह रेहाना ने पुलिस कस्टडी में जहर निगल लिया. जिससे पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया और उसे आनन-फानन में निजी अस्पताल में भर्ती कराया. जब ये मामला पुलिस तक पहुंचा तो मनोज को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई.


वहीं, इंस्पेक्टर रविंद्र कुमार पंत का कहना है कि सभी आरोप बेबुनियाद हैं. युवक जो आरोप लगा रहा है, वह सरासर गलत है. पुलिस सिर्फ पूछताछ करने के लिए दोनों को लेकर आई, इसके अलावा किसी तरह की बयानबाजी और मारपीट नहीं की गई.


Also Read: आगरा: सीएम योगी ने लिया तलाकशुदा के पत्र पर एक्शन, आरोपी शौहर को भेजा जेल


एएसपी रणविजय सिंह का कहना है कि युवती ने युवक से शादी की रट लगाई हुई थी. उसे तसल्ली देने के लिए युवक को थाने लाया गया था, किसी के साथ मारपीट नहीं की गई. युवक को डिप्रेशन के चलते अस्पताल में भर्ती कराया गया था. पुलिस पर लगाए जा रहे आरोप गलत हैं. इसके बावजूद मामले की जांच कराई जाएगी.


बता दें बालैनी थाने में पुलिस कस्टडी में जहर खाकर आत्महत्या का प्रयास करने वाली रेहाना की हालत में सुधार है, रेहाना को होश आ गया है. वह परिजनों से बातचीत भी कर रही है. मामला हिंदू और मुस्लिम समुदाय से जुड़ा होने के चलते गांव में सांप्रदायिक तनाव बना हुआ है. सुरक्षा की दृष्टि से निजी अस्पताल के बाहर भी पुलिस तैनात की गई है. बालैनी थानाध्यक्ष रविंद्र कुमार पंत का कहना है कि अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद युवती के कोर्ट में बयान दर्ज कराए जाएंगे.


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )


Related news

कानपुर: ट्रेन में बिना टिकट सफर कर रहे दारोगा की दादागिरी, टीटीई को मार-मारकर किया लहूलुहान

S N Tiwari

लोकसभा चुनाव: DGP का सख्त निर्देश- किसी भी पार्टी को लेकर सोशल मीडिया पर पोस्ट न डालें, ना हीं सार्वजानिक जगह पर राजनीति की चर्चा करें

BT Bureau

मैनपुरी: देर रात गश्त के दौरान सिपाही पर बदमाशों ने की ताबड़तोड़ फायरिंग, हालत गंभीर

BT Bureau