Lifestyle Social Social Revolution

देश में अब भी 11. 90 लाख से ज्यादा लोग HIV ग्रस्त हैं

2017 के अंत तक अनुमानित 21.4 लाख लोग भारत में एचआईवी (पीएलएचआईवी) के साथ रह रहे थे. इन लोगों में वयस्क (15-49 वर्ष) वालों की संख्या 0.22% फीसदी थी. ताजा आंकड़ों के मुताबिक 11.81 लाख लोग देश में एंटी-रेट्रोवायरल का उपचार करवा रहे हैं. हाल ही में नेशनल एड्स कंट्रोल ऑर्गनाइज़ेशन, आईसीएमआर-नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल स्टैटिस्टिक्स, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय भारत सरकार ने इसको लेकर एक रिपोर्ट जारी की है.

 

 

1 दिसंबर को विश्व एड्स दिवस की 30वीं वर्षगांठ है. इंडियन काउंसिल ऑफ़ मेडिकल रिसर्च के अधिकारियों ने कहा कि अच्छी प्रगति के बावजूद एड्स महामारी अभी खत्म नहीं हुई है. भारत में 35 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में 1981 से 2017 तक एड्स की स्थिति पर कहा गया है कि भारत में नए एचआईवी संक्रमण और एड्स से संबंधित मौतों में गिरावट आई है. रिपोर्ट के अनुसार 2017 में 87,590 नए एचआईवी संक्रमण और 69,110 एड्स से संबंधित मौतें हुई.

 

Related image

 

Also Read : लाइफ पार्टनर के साथ बेड पर परफेक्ट सेक्सुअल केमेस्ट्री बनाने के लिए अपनाएं ये तीन असरदार टिप्स

 

हालांकि नए संक्रमण में राष्ट्रीय स्तर पर कमी आयी है. पांच राज्यों – अरुणाचल प्रदेश (65%), असम (37%), मिजोरम (18%), मेघालय (10%) और उत्तराखंड (4%) – 2010 की तुलना में 2017 में नए संक्रमण में वृद्धि हुई. रिपोर्ट के अनुसार कुछ राज्यों में एचआईवी संक्रमण बढ़ने पर प्रसन्नता के लिए कोई जगह नहीं है.
देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करेंआप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

56 total views, 1 views today

Related news

मिलिए उन दलितों से जो संभालते हैं CM योगी के ‘गोरखनाथ मंदिर’ की पूरी व्यवस्था

BT Bureau

कैराना में NRC को लेकर PFI ने लगाए विवादित पोस्टर, इलाके में हड़कंप

BT Bureau

एक मुस्लिम होने के कारण मुझे हिंदुस्तान में डर लगता है :नसीरुद्दीन शाह

BT Bureau

Leave a Comment