Sports

T20 की तरह टेस्ट मैच भी बनेगा मजेदार, फ्री हिट और शॉट क्लॉक के लिए MCC की सिफारिश

टेस्ट क्रिकेट की घटती लोकप्रियता को देखते हुए एमसीसी विश्व क्रिकेट समिति ने कुछ प्रस्ताव दिए हैं. इस प्रस्ताव में समय बर्बादी रोकने के लिए ‘शॉट क्लॉक’ और शुरुआती विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के लिए मानक गेंद का इस्तेमाल और नो बॉल के लिए फ्री हिट जैसी सिफारिशें शामिल हैं. यह सुझाव इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइक गेटिंग की अध्यक्षता वाली समिति ने पिछले हफ्ते बंगलुरू में हुई बैठक दी. इस बैठक में पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली भी शामिल हैं. इन प्रस्तावों को मेरिलबोन क्रिकेट क्लब (एमसीसी) ने मंगलवार रात अपनी वेबसाइट पर लगाया है.


पांच दिवसीय प्रारूप में धीमी ओवर गति नियमित प्रक्रिया है, जिससे प्रशंसक खेल से थोड़ा दूर हो रहे हैं, इसलिए एमसीसी समिति ने ‘शॉट क्लॉक’ आरंभ करने की जरूरत व्यक्त की. एमसीसी ने कहा, ‘जब इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड और दक्षिण अफ्रीका के प्रशंसकों से टेस्ट क्रिकेट में दर्शकों की कम हिस्सेदारी के मुख्य कारकों को पूछा गया, तो 25 प्रतिशत प्रशंसकों ने धीमी ओवर गति का जिक्र किया.


Also Read: IPL 2019: सनराइजर्स हैदराबाद को लगा झटका, स्टार खिलाड़ी हुआ चोटिल



रफ्तार को बढ़ाने के लिए कुछ कदम उठाए जाएंगे कदम


उन्होंने कहा, ‘इन देशों में स्पिनर बहुत कम ओवर फेंकते हैं, एक दिन में पूरे 90 ओवर कभी कभार नहीं फेंके जाते, यहां तक कि अतिरिक्त 30 मिनट भी ले लिये जाते हैं.’ एमसीसी ने कहा, ‘वहीं, डीआरएस भी देरी के लिए थोड़ा जिम्मेदार है, समिति को लगता है कि खेल की रफ्तार को बढ़ाने के लिए कुछ कदम उठाए जाने चाहिए.’


Also Read: आईसीसी ने करी आईपीएल की तारीफ, कहा- IPL ने टी-20 लीग के लिए बेंचमार्क स्थापित किए


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमेंफेसबुकपर ज्वॉइन करें, आप हमेंट्विटरपर भी फॉलो कर सकते हैं. )

473 total views, 2 views today

Related news

CSK फैंस के लिए बुरी ख़बर, इस बार IPL फाइनल में नहीं खेलेंगे धोनी

Satya Prakash

जानें, आखिर क्यों T-20 टीम से कर दी गयी महेंद्र सिंह धोनी की ‘छुट्टी’

BT Bureau

विश्व बैडमिंटन चैम्पियनशिप: इतिहास रचने से चूकीं पीवी सिंधु, कैरोलीना मारिन बनीं तीसरी बार चैम्पियन

BT Bureau

Leave a Comment